भ्रष्ट और अयोग्य कर्मचारियों पर नकेल कसने की तैयारी में मोदी सरकार,हो रहा है तैयार चिट्ठा

by | Aug 30, 2020 | देश/विदेश

केंद्र सरकार ने सरकारी सेवा में 30 साल पूरे कर चुके या 50-55 साल की उम्र के कर्मचारियों की सेवा रिकॉर्ड की जांच करने के लिए कहा है.

दिल्ली:अब मोदी सरकार भ्रष्ट और अयोग्य सरकारी कर्मचारियों पर नकेल कसने की पूरी सख्त तैयारी कर रही है. इसको लेकर मोदी सरकार ने ऐसे सरकारी कर्मचारियों की पहचान करने के निर्देश भी दे दिए हैं.सरकार भ्रष्ट और अयोग्य कर्मचारियों को रिटायर करने पर भी जोर दे रही है.
मोदी सरकार सरकारी कर्मचारियों के रिकॉर्ड की जांच करने वाली है. इसके लिए सरकार ने दिशा-निर्देश भी दे दिए हैं. इसके तहत अक्षमता और भ्रष्टाचार के आरोपों की जांच की जाएगी. वहीं जो लोग भ्रष्ट, अयोग्य पाए जाते हैं, उन्हें सेवानिवृत्त होने के लिए कहा जाएगा. इसको लेकर एक रजिस्टर भी तैयार करने के लिए कहा गया है.
केंद्र सरकार ने नए दिशा-निर्देश जारी किए हैं. इसके तहत केंद्र सरकार ने सरकारी सेवा में 30 साल पूरे कर चुके या 50-55 साल की उम्र के कर्मचारियों की सेवा रिकॉर्ड की जांच करने के लिए कहा है. केंद्र सरकार ने कहा है कि 30 साल पूरे कर चुके या 50-55 साल की उम्र के सरकारी कर्मचारियों की सर्विस रिकॉर्ड में अक्षमता और भ्रष्टाचार के आरोपों की जांच हो. सिस्ट

यह न्यूज जरूर पढे 

गुड़ न्यूज़ : 15 हजार से कम सैलेरी वाले कामगारों को मिलेगा आयुष्मान भारत योजना का लाभ,जानिए कौन ले सकता है इसका लाभ,कैसे करना है रजिस्ट्रेशन

गुड़ न्यूज़ : 15 हजार से कम सैलेरी वाले कामगारों को मिलेगा आयुष्मान भारत योजना का लाभ,जानिए कौन ले सकता है इसका लाभ,कैसे करना है रजिस्ट्रेशन

अगर आप असंगठित क्षेत्र के कामगार हैं और आपकी मासिक आय 15 हजार रुपये से कम हो तो आपके लिए खुशखबरी है.आप ई-श्रम पोर्टल पर अपना पंजीकरण करा सकते हैं. इससे किसी भी दुर्घटना व बीमारी के दौरान खर्च की चिंताओं से मुक्त हो सकते हैं. ई-श्रम पोर्टल पर पंजीकरण के बाद कामगार...

पालघर/ठाणे: पुलिस भर्ती परीक्षा में नकल करते पकड़े गए पांच ‘मुन्नाभाई’

पालघर/ठाणे: पुलिस भर्ती परीक्षा में नकल करते पकड़े गए पांच ‘मुन्नाभाई’

महाराष्ट्र के ठाणे शहर में पुलिस भर्ती परीक्षा में नकल करने और अन्य आरोपों में पुलिस ने पांच लोगों को गिरफ्तार किया है। अधिकारियों ने सोमवार को बताया कि ठाणे और पड़ोसी पालघर जिले में पुलिस में चालक पद के लिए रविवार को लिखित परीक्षा थी। ठाणे में लगभग 18,000 लोगों ने...

परशदेपुर: गरीबों के हक पर खुलेआम डाका,जरूरतमंदों को नहीं मिल रहा पीएम आवास योजना का लाभ

परशदेपुर: गरीबों के हक पर खुलेआम डाका,जरूरतमंदों को नहीं मिल रहा पीएम आवास योजना का लाभ

राजकुमार रायबरेली. सरकार ने इस उम्मीद के साथ प्रधानमंत्री आवास योजना शुरू की थी कि 2022 तक प्रत्येक गरीब व पात्र व्यक्ति को सिर पर पक्की छत हो। लेकिन आज भी गरीब व पात्र व्यक्ति योजना का लाभ लेने के लिए सरकारी दफ्तर के चक्कर काट रहे हैं। वहीं अमीर व प्रभावशाली लोग इसका...