विश्व हिंदू परिषद ने जय भीम-जय मीम के जवाब में दिया ये नारा

by | Aug 29, 2020 | देश/विदेश

विश्व हिंदू परिषद के राष्ट्रीय प्रवक्ता विनोद बंसल ने IANS को बताया कि हरियाणा के गोहोना में बीते 23 अगस्त को हुए एक आयोजन में वाल्मीकि समाज के कुल 104 युवकों ने नीला पटका छोड़कर भगवा पटका धारण किया। तहसील के हर गांव से दो-दो युवकों को इस आयोजन में बुलाया गया था।

नई दिल्ली. कुछ राजनीतिक दलों की ओर से दलित-मुस्लिम एकता के लिए चलाए गए ‘जय मीम-जय भीम’ के नारे के जवाब में विश्व हिंदू परिषद (विहिप) ने ‘जय वाल्मीकि-जयश्रीराम’ का नारा दिया है। हरियाणा से इस अभियान की विश्व हिंदू परिषद ने बड़े पैमाने पर शुरूआत की है। हरियाणा के गोहना में विहिप की कोशिशों के बाद स्थानीय वाल्मीकि समाज के लोगों ने सामाजिक समरसता भवन भी बनाकर तैयार किया है। विश्व हिंदू परिषद के विहिप कार्याध्यक्ष आलोक कुमार के मुताबिक, अनुसूचित जाति के लोग हिंदू समाज के अटूट अंग हैं। कोई भी साजिश उन्हें अलग नहीं कर सकती।
केंद्रीय संयुक्त महासचिव डॉ. सुरेंद्र कुमार जैन का कहना है कि, “डॉ. अंबेडकर ने संघ के द्वितीय सरसंघचालक गुरुजी को कहा था कि यदि हिन्दू संत घोषित कर दें कि छुआछूत हिंदू समाज का हिस्सा नहीं है, तो छुआछूत की भावना मिट सकती है। जिसके बाद विश्व हिंदू परिषद के 1969 में उडुपी के सम्मेलन में समाज से ऊंच-नीच का भेदभाव मिटाने का प्रस्ताव पास किया था। तब से विश्व हिंदू परिषद देश से छुआछूत के खात्मे के लिए संकल्पबद्ध होकर कार्य कर रही है।”
विश्व हिंदू परिषद के राष्ट्रीय प्रवक्ता विनोद बंसल ने IANS को बताया कि हरियाणा के गोहोना में बीते 23 अगस्त को हुए एक आयोजन में वाल्मीकि समाज के कुल 104 युवकों ने नीला पटका छोड़कर भगवा पटका धारण किया। तहसील के हर गांव से दो-दो युवकों को इस आयोजन में बुलाया गया था। चंद्रशेखर रावण के संगठन को छोड़कर सभी वाल्मीकि समाज के युवाओं ने हिंदू एकता के लिए विहिप के साथ मिलकर सनातन धर्म की थाती को संभालने का संकल्प लिया।
‘जय भीम-जय मीम’ के जवाब में विश्व हिंदू परिषद ने दिया ये नारा
विश्व हिंदू परिषद के राष्ट्रीय प्रवक्ता विनोद बंसल ने IANS को बताया कि हरियाणा के गोहोना में बीते 23 अगस्त को हुए एक आयोजन में वाल्मीकि समाज के कुल 104 युवकों ने नीला पटका छोड़कर भगवा पटका धारण किया। तहसील के हर गांव से दो-दो युवकों को इस आयोजन में बुलाया गया था।
नई दिल्ली. कुछ राजनीतिक दलों की ओर से दलित-मुस्लिम एकता के लिए चलाए गए ‘जय मीम-जय भीम’ के नारे के जवाब में विश्व हिंदू परिषद (विहिप) ने ‘जय वाल्मीकि-जयश्रीराम’ का नारा दिया है। हरियाणा से इस अभियान की विश्व हिंदू परिषद ने बड़े पैमाने पर शुरूआत की है। हरियाणा के गोहना में विहिप की कोशिशों के बाद स्थानीय वाल्मीकि समाज के लोगों ने सामाजिक समरसता भवन भी बनाकर तैयार किया है। विश्व हिंदू परिषद के विहिप कार्याध्यक्ष आलोक कुमार के मुताबिक, अनुसूचित जाति के लोग हिंदू समाज के अटूट अंग हैं। कोई भी साजिश उन्हें अलग नहीं कर सकती।

केंद्रीय संयुक्त महासचिव डॉ. सुरेंद्र कुमार जैन का कहना है कि, “डॉ. अंबेडकर ने संघ के द्वितीय सरसंघचालक गुरुजी को कहा था कि यदि हिन्दू संत घोषित कर दें कि छुआछूत हिंदू समाज का हिस्सा नहीं है, तो छुआछूत की भावना मिट सकती है। जिसके बाद विश्व हिंदू परिषद के 1969 में उडुपी के सम्मेलन में समाज से ऊंच-नीच का भेदभाव मिटाने का प्रस्ताव पास किया था। तब से विश्व हिंदू परिषद देश से छुआछूत के खात्मे के लिए संकल्पबद्ध होकर कार्य कर रही है।”

विश्व हिंदू परिषद के राष्ट्रीय प्रवक्ता विनोद बंसल ने IANS को बताया कि हरियाणा के गोहोना में बीते 23 अगस्त को हुए एक आयोजन में वाल्मीकि समाज के कुल 104 युवकों ने नीला पटका छोड़कर भगवा पटका धारण किया। तहसील के हर गांव से दो-दो युवकों को इस आयोजन में बुलाया गया था। चंद्रशेखर रावण के संगठन को छोड़कर सभी वाल्मीकि समाज के युवाओं ने हिंदू एकता के लिए विहिप के साथ मिलकर सनातन धर्म की थाती को संभालने का संकल्प लिया।
उन्होंने बताया कि विश्व हिंदू परिषद के सामाजिक समरसता अभियान के तहत दलित समाज के लोगों को मुख्यधारा में लाने की कोशिशें लगातार चल रहीं हैं। हरियाणा में विश्व हिंदू परिषद के प्रांत उपाध्यक्ष और सेवानिवृत्त न्यायाधीश पवन कुमार के नेतृत्व में वाल्मीकि समाज के युवाओं को विहिप से जोड़ने का अभियान चल रहा है। विश्व हिंदू परिषद के राष्ट्रीय प्रवक्ता ने कहा कि “एआईएमआईएम मुखिया असदुद्दीन ओवैसी जैसे नेता दलितों को बरगलाने की कोशिश करते हुए ‘जय भीम-जय मीम’ का नारा लगाते हैं। उन जैसे नेताओं को हरियाणा के वाल्मीकि समाज के युवाओं ने एक ही नारा एक ही नाम, जय बाल्मीकि जय श्री राम के जरिए मुंहतोड़ जवाब दिया है।”

यह न्यूज जरूर पढे 

‘सीता’ के किरदार को लेकर करीना कपूर की बढ़ीं मुश्किलें, बजरंग दल ने चेतावनी देते हुए कहा- फिल्म बनी तो…

‘सीता’ के किरदार को लेकर करीना कपूर की बढ़ीं मुश्किलें, बजरंग दल ने चेतावनी देते हुए कहा- फिल्म बनी तो…

बॉलीवुड एक्ट्रेस करीना कपूर खान अक्सर सुर्खियों में रहती हैं। कभी अपनी प्रोफेशनल लाइफ, तो कभी पर्सनल लाइफ को लेकर करीना चर्चा में रहती हैं। लेकिन इस बार उनकी आने वाली फिल्म और उसके किरदार को लेकर मसला गंभीर होता जा रहा है। इसी के साथ करीना विवादों में घिरती हुई नजर आ...

परशदेपुर: योगी सरकार के गड्ढामुक्त सड़कों के दावों की उड़ रही धज्जियां

परशदेपुर: योगी सरकार के गड्ढामुक्त सड़कों के दावों की उड़ रही धज्जियां

राजकुमाररायबरेली: उत्तर प्रदेश में भाजपा की सरकार बनते ही मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रदेश की सड़को को गड्ढा मुक्त करने का निर्देश दिया था। लेकिन पीडब्ल्यूडी अधिकारियों की लापरवाही से अमेठी संसदीय क्षेत्र के सलोन विधासभा में सीएम योगी के दावों की धज्जियां उड़ रही...

अब मर्द भी हो सकते हैं प्रेग्नेंट! चीन के  वैज्ञानिकों ने कीया अजीबोगरीब रिसर्च

अब मर्द भी हो सकते हैं प्रेग्नेंट! चीन के वैज्ञानिकों ने कीया अजीबोगरीब रिसर्च

चीन के वैज्ञानिक अजीबोगरीब रिसर्च करते रहते हैं. बीते दिनों चीन के वुहान लैब से निकले एक वैज्ञानिक ने दावा किया था कि चीन अजीबोगरीब रिसर्च करते रहता है. वहां कई ऐसे रिसर्च किये जाते हैं जो आमतौर पर अन्य देशों में बैन है. इसी के बीच अब चीन के वैज्ञानिकों ने दावा किया...