DFCC प्रकल्प में भोपर के 82 घर बाधित

by | Sep 30, 2020 | ठाणे, मुंबई

 

मिथिलेश गुप्ता

डोंबिवली : पिछले सप्ताह, भोपार में 82 घरों के लिए भूमि के अधिग्रहण के लिए अंतिम नोटिस जारी किए गए थे, जो केंद्र सरकार की महत्वाकांक्षी पश्चिमी डेडिकेटेड फ्रेट कॉरिडोर (DFCC) विशेष रेलवे परियोजना में एक बाधा है। नतीजतन, निवासियों के मुंह सूख गए हैं और मेहनत पसीने की जमापूंजी से खरीदे घरों को ध्वस्त नहीं किया जाना चाहिए उन्होंने ऐसी मांग विधायक रवींद्र चव्हाण से की है ।

इस परियोजना का कल्याण उप-विभागीय अधिकारी के कार्यालय के माध्यम से नोटिस जारी किए गए हैं और अधिकांश घर चाल के हैं। सामान्य परिवारों के ये नागरिक घर जाने के लिए चिंतित हैं। राज्य सरकार को घरों को बचाने के लिए अगुवाई करनी चाहिए। परिवारों ने पहले स्थानीय नगरसेविका रवीना अमर माली से मुलाकात की थी। विधायक चव्हाण से उम्मीद हैं कि परिवारों की मांग को राज्य, केंद्र सरकार तक पहुचाए, इसके लिए रवीना माली ने शनिवार और सोमवार को दो बार नागरिक और विधायक के बीच मीटिंग करवाई । हालांकि नोटिस में कहा गया है कि दस्तावेजों को जिला कलेक्टर के पास भेजने के लिए दो महीने की अवधि है, चव्हाण ने सुझाव दिया कि दस्तावेजों को पहले जमा किया जाना चाहिए। इसलिए घर से संबंधित दस्तावेजों की एक प्रति चव्हाण के पास जमा करें ऐसा रवीना माली ने कहा । साथ ही निवासी भयभीत नहीं हो , इसके लिए जो भी प्रयास होगा वह सब किया जाएगा और चव्हाण ने नागरिकों को आश्वासन दिया था कि वह कलेक्टर से इस मुद्दे पर बात करेंगे। इसी कड़ी में विधायक रविंद्र चव्हाण ने मंगलवार को कल्याण उप-विभागीय अधिकारी से मुलाकात की और पूरे मुद्दे को उनके समक्ष प्रस्तुत किया । 

यह न्यूज जरूर पढे