शासकीय कायदों की धज्जियां उड़ाकर हो रहा है भूमिगत पार्किंग का निर्माण

by | Aug 27, 2020 | ठाणे

राजनीतिक दबाव में ठाणे शहर के एकमात्र मैदान को निगलने की साजिश : राजेश जाधव

धर्मेंद्र उपाध्याय

ठाणे। ठाणे शहर की वाहन पार्किंग समस्या के समाधान के लिए शहर में स्थित गांवदेवी मैदन में भूमिगत पार्किंग का निर्माण किया जा रहा है। इस पार्किंग योजना को लेकर कई तरह के सवाल खड़े हो रहे हैं। कहा जा रहा है कि शासकीय कायदों की धज्जियां उड़ाकर इसका निर्माण किया जा रहा है। इतना ही नहीं भूमिगत पार्किंग निर्माण के कारण पूरा परिसर भयंकर हादसे का शिकार भविष्य में हो सकता है। इस संवेदनशील मुद्दे को लेकर महाराष्ट्र कांग्रेस प्रदेश कमिटी के सदस्य राजेश जाधव ने मनपा प्रशासन के साथ ही मनपा आयुक्त डॉ. विपीन शर्मा को आगाह किया है। साथ ही उन्हें निवेदन देकर मांग की गई है कि तत्काल भूमिगत पार्किंग के जारी कामों को रोक अन्य विकल्प पर विचार किया जाए। निवेदन में कहा गया है कि निर्माणाधीन भूमिगत पार्किंग के कारण स्थानीय इमारतों के साथ मनपा के गगनचुंबी वॉटर टंकी के साथ ही भूमिगत गटर और सिवरेज लाईन को भारी क्षति पहुंच सकती है।
विदित हो कि स्मार्ट सिटी के योजना की आड़ में शहर की वाहन पार्किग समस्या के समाधान के लिए करोड़ों की राशि खर्च कर गांवदेवी मैदान में भूमिगत पार्किंग का निर्माण कार्य किया जा रहा है। राजेश जाधव ने मनपा प्रशासन को आगाह किया है कि यह योजना भविष्य में घातक हो सकती है। इसके पहले मुंबई में निजी बिल्डर द्वारा निर्मित भूमिगत पार्किंग के चलते हादसे हो चुके हैं।कम से कम इससे ठाणे मनपा को भी सीख लेने की आवश्यकता है।
इस समय ठाणे रेलवे स्टेशन के समीप स्थित गांवेदेवी मैदान में भूमिगत पार्किंग के लिए खोदकाम युद्धस्तर पर चालू है। यदि भूमिगत पार्किंग का निर्माण यहां किया गया तो इससे आसपास की इमारतों के साथ ही मनपा के स्वामित्व वाले गगनचुंबी वॉटर टैंक को भी भयंकर खतरा पैदा हो सकता है। इसकी सौ प्रतिशत संभावना है। इन बातों का जिक्र अपने निवेदन में करते हुए जाधव ने मनपा प्रशासन का ध्यान इस ओर खींचा है कि भूमिगत पार्किंग सुविधा शासन के कायदों की धज्जियां उड़कर किया जा रहा है।
शासकीय कायदे के अनुसार किसी भी शहर में तीन किलोमीटर फैले परिसर में मैदान और गार्डन का होना आवश्यक है। ताकि किसी प्रकार के प्राकृतिक व अन्य हादसे हुए तो बचाव व्यवस्था के तहत उसका उपयोग किया जा सकता है। ठाणे शहर का एकमात्र गांवेदेवी मैदान है जिसका उपयोग प्राकृतिक आपदाओंं से निपटने के समय किया जा सकता था। लेकिन उस संभावना को समाप्त कर दिया गया है। जाधव का कहना है कि भूमिगत पार्किंग का निर्माण किए जाने के बाद इस मैदान की क्षमता समाप्त हो जाएगी। संकटकालीन स्थिति में इस मैदान का उपयोग नहीं किया जा सकेगा। इसकी उपेक्षा की गई है।
इसके साथ ही राजेश जाधव ने कहा है कि राजनीतिक दबाब में ठाणे शहर के एकमात्र मैदान को निगलने की साजिश रची गई है। पार्किंग समस्या और स्मार्ट सिटी के नाम पर ठाणे शहर को मैदानरहित शहर बनाने की साजिश चल रही है। उन्होंने मनपा आयुक्त डॉ. शर्मा से मांग की है कि तत्काल मैदान खोदने के काम पर रोक लगाई जाए। साथ ही भूमिगत पार्किंग के लिए अन्य किसी दूसरे स्थानों का चयन किया जाए। यदि ऐसा नहीं हुआ तो भविष्य में ठाणेकरों को भीषण मानव निर्मित हादसे का शिकार होना पड़ेगा। इसकी सौ प्रतिशत संभावना है।

यह न्यूज जरूर पढे 

ठाणे जिला मे भारी बारिश , कई स्थानों पर बाढ़ की स्थिति

ठाणे जिला मे भारी बारिश , कई स्थानों पर बाढ़ की स्थिति

मिथिलेश गुप्ता डोंबिवली : मुंबई, ठाणे और ठाणे जिलों में कल्याण-डोंबिवली, बदलापुर, भिवंडी, शाहपुर, अंबरनाथ और शाहद जिलों में भारी बारिश हुई. डोंबिवली के पास देवीचापाड़ा, कोपर, मोठगाँव ठाकुर्ली, गरीबांच्य वाडा, राजू नगर, कुंभरखान पाड़ा में बाढ़ आ गई है। डोंबिवली पश्चिम...

कल्याण के अडवाली गांव में नागरिकों ने पानी में बैठकर किया आंदोलन…

कल्याण के अडवाली गांव में नागरिकों ने पानी में बैठकर किया आंदोलन…

मिथिलेश गुप्ताकल्याण : कल्याण डोंबिवली में तीन दिन की भारी बारिश के बाद आज सुबह फिर से कल्याण डोंबिवली में हुई बारिश ने प्रशासन के रवैये की पोल खोल दिया. आज दोपहर दो घंटे की बारिश के बाद कल्याण-मलंग मार्ग पर अडावली गांव में सड़क लगभग घुटने तक पानी भरा और कुछ चाली में...

24 जून के मोर्चे के कारण मंत्री बने सांसद कपिल पाटिल – गायकवाड़

24 जून के मोर्चे के कारण मंत्री बने सांसद कपिल पाटिल – गायकवाड़

मिथिलेश गुप्ताडोंबिवली : निर्भय जर्नलिस्ट्स फाउंडेशन द्वारा आयोजित एक कार्यक्रम में आरपीआई नेता और पनवेल के डिप्टी मेयर जगदीश गायकवाड़ ने कहा कि, 24 जून को हुए भूमिपुत्रो के मोर्चे के कारण ही भिवंडी के सांसद कपिल पाटिल को मंत्री बनाया गया हमारे लिए यह गौरव की बात है।...