कोरोना काल में लाखों लोगों ने ली डोलो-650 की गोलियां; अब सामने आई चौंकाने वाली जानकारी …पढ़े पूरी खबर

by | Jul 16, 2022 | कोविड 19, देश/विदेश

आमतौर पर बुखार के इलाज के लिए इस्तेमाल की जाने वाली डोलो-650 हर घर में उपलब्ध होगी । कोरोना काल में कई लोगों ने डोलो-650 की गोली ली। नतीजतन, डोलो के निर्माता माइक्रो लैब्स के मुनाफे में जबरदस्त वृद्धि हुई। इसलिए, कंपनी आयकर विभाग के रडार पर आ गई। उसके बाद डोलो-650 के बारे में चौंकाने वाली जानकारी सामने आई है।

इस दवाई कंपनी ने डोलो-650 का इस्तेमाल बढ़ाने के लिए डॉक्टरों को 1000 करोड़ रुपये का मुफ्त तोहफा दिया है। बिजनेस टुडे की एक रिपोर्ट के मुताबिक, आयकर विभाग की एक टीम ने 6 जुलाई को 9 राज्यों में माइक्रो लैब्स लिमिटेड के 36 ठिकानों पर छापेमारी की थी. सीबीडीटी ने बताया कि कंपनी के खिलाफ की गई कार्रवाई से बेहिसाब राशि और आभूषण बरामद किए गए।
सीबीडीटी की ओर से दी गई जानकारी के मुताबिक कंपनी की ओर से डॉक्टरों को 1000 करोड़ रुपये का मुफ्त तोहफा दिया गया. यह जानकारी दस्तावेजों और डिजिटल डेटा के जरिए सामने आई है। छापेमारी के दौरान ये दस्तावेज और डिजिटल डाटा आयकर विभाग के हाथ में आया। साफ है कि कंपनी ने अपने उत्पादों का इस्तेमाल बढ़ाने के लिए मुफ्त उपहार बांटे हैं।
डोलो-650 दवा की कीमत कम है। हालांकि इस दवा को बनाने वाली माइक्रो लैब्स ने जिस तरह से इसे बेचने के लिए इस्तेमाल किया, वह फिलहाल चर्चा का विषय बनता जा रहा है।

इस दवाई कंपनी ने व्यापार बढ़ाने के लिए डॉक्टरों के साथ मिलकर ऐसा खेल खेला की लोगो की मजबूरी को ताक पर रखकर कोविड आपदा में पैसा कमाने का जरिया बना दिया । कोरोना संकट के दौरान डोलो-650 की बिक्री कई गुना बढ़ गई।

यह न्यूज जरूर पढे