Palghar | नौकरी के लिए दुबई गई लड़की को घर वालो के संपर्क से रखा दूर,पुलिस ने किया रेस्क्यू

by | Jun 14, 2022 | देश/विदेश, पालघर, महाराष्ट्र

पालघर जिले की रहने वाली एक 18 वरहिय लड़की को दुबई से रेस्क्यू कर वापस भारत लाया गया है. पीड़िता को चाइल्ड केयर टेकर के तौर पर काम करने के लिए दुबई ले जाया गया था. वहां पहुंचने के बाद लड़की को उसके घरवालों से बातचीत करने की इजाज़त नहीं दी जा रही थी. दुबई जाने के बाद करीब तीन हफ्तों तक बेटी की कोई खबर नही मिलने से परेशान मां ने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई.

पीड़ित लड़की अप्रैल में अपने कुछ परिचितों के जरिए दुबई गई थी. नौकरी का कॉन्ट्रैक्ट एक साल का था, लेकिन पीड़िता के दुबई पहुंचते ही गड़बड़ी शुरू हो गई. उसे अपने परिवार से बात करने की इजाज़त भी तब मिलती, जब उसको नौकरी देने वाले कॉन्फ्रेंस मोड पर रहते. कुछ दिनों के बाद फोन कॉल का ये सिलसिला भी बंद हो गया. पीड़िता को उसके परिवार से बात करने की परमीशन मिलना बंद हो गई. परिवारवालों की तमाम कोशिशों के बाद भी करीब तीन हफ्ते तक लड़की से संपर्क नहीं हो पाया. इसके बाद 2 जून को पीड़िता की मां ने मीरा भायंदर वसई विरार पुलिस कमिश्नरेट में शिकायत दर्ज कराई और 5 जून को लड़की को दुबई से वापस भारत लाकर उसके परिवार को सौंप दिया गया.

मीरा भायंदर वसई विरार के कमिश्नर सदानंद दाते ने पासपोर्ट विंग के अधिकारियों को जांच कर कार्रवाई करने के निर्देश दिए. जांच अधिकारियों ने दुबई में भारत के महावाणिज्य दूतावास से संपर्क कर पूरा मामला बताया. पुलिस के मुताबिक, पीड़िता को एक साल के कॉन्ट्रैक्ट पर दुबई ले जाने वाली महिला उसे भारत वापस भेजने के लिए तैयार नहीं हो रही थी, लेकिन दूतावास के हस्तक्षेप की वजह से लड़की सही सलामत वापस अपने घर लौटने में कामयाब रही.

यह न्यूज जरूर पढे