#Boisarkar | होली हो या दिवाली हम बोईसररकर कभी किसी का बुरा नही मानते… पढ़े बुरा न मानो होली है

by | Mar 18, 2022 | पालघर, महाराष्ट्र

● कहने को तो हमारे इधर इतनी बड़ी इंडस्ट्रीज लगी हुई है कि जो एशिया के बड़े औद्योगिक हब में शामिल है । पर ठीक उसका उल्टा हमारा क्षेत्र पिछड़ा हुआ है फिर भी हम बड़े दिलवाले है हमको किसी से कोई शिकायत नही ।
● हमारे एमआईडीसी में इतनी बड़ी बड़ी नामी गिरामी कंपनियां है कि उनके महज एक दिन की मुनाफे में हमारा बोईसर चमक सकता है । फिर भी हमे कोई अफसोस नही,हमारी दुआए सबके साथ है ।
● हमारे इधर बड़ी एमआईडीसी उतना ही बड़ा,आयकर,जीएसटी कलेक्शन फिर भी स्मार्ट सिटी बनने में हमारा सलेक्शन नही हुआ ,पर हमें उसका भी अफसोस नही ।
● हमारे औद्योगिक क्षेत्र की सड़कों पर बड़े बड़े गड्ढे ,पूरी तरह अयस्त व्यस्त पर हमें कोई शिकायत नही क्योकि हमने गड्डो से बचने के लिए हमारे गाड़ियों के ब्रेक लगवाकर रखे है और हमारी जान को सस्ती कर रखी है । पर हमें एमआईडीसी बोर्ड से कोई नाराजगी नही ।
● हमारे इधर जिसको मर्जी आये वैसे हमारे साथ खिलवाड़ कर सकता है, जी भरकर प्रदूषण,केमिकल को नदियों में छोड़ना …सबको छूट दे रखी है। पर हमने कभी किसी के खिलाफ मुह नही फुलाया ।
● हमारे एमआईडीसी में अनगिनत मजदूर यूनियन,मजदूर नेता,शुभचिंतक है पर कोरोना के चलते हुए लॉक डाउन में किसी ने मजदूरों की अंगुली नही थामी, फिर भी हम उनका दामन थामे रखे है ,हमारा मन एकदम पानी की तरह साफ है ।
● हमारे तो नेता भी ऐसे है जो हमसे लेते है पर बदले में शहर को कुछ देते नही है पर फिर भी हम उनके पीछे चलते है सोचो हम कितने महान है ।
● हमारे बोईसर में लाखों प्रवासी मजदूर फिर भी उन्हें बाहर की ट्रेन पकड़ने के लिए हमे बाहर जाना पड़ता है । कोई बात नही हमे घूमने का शौक है व मेहनत कर कमाने की भी आदत है ।
● हमारे एमआईडीसी से ESIES के करोड़ो रूपये का फंड मजदूरों के पसीने से कमाए पगार के पैसे में से कटकर जाता है ,जबकि उसका बोईसर में हॉस्पिटल तक नही है पर हमने उफ्फ तक नही किया ।

सोचो हम बोईसरकर कितने महान है,न हमको किसी से गीला, न शिकवा..हमको हमारे हाल में रहने की आदत पड़ गई है । हम बोईसरकर न सिर्फ बड़े दिल के है उससे ज्यादा मन के भी साफ है ,भले लोग हमारा फायदा उठाये पर हम लोगो को फायदे में ही रखते है । भले हम उसी हाल में जिये,हमे कोई न पूछे पर हमारी धरती पर कर्म करने वाला आगे बढ़े यही कामना लेकर हम सभी का अच्छा सोचते है क्योकि हम बोईसरकर है ।

नोट : बुरा न मानो यह होली है । यह लेखक के निजी विचार है,किसी तथ्य या पात्र से जोड़कर न पढ़े ।

यह न्यूज जरूर पढे