Good Job : पढ़ाई के दबाव में दिल्ली से घर छोड़कर आ पहुंची पालघर,ऑटोरिक्शा चालक की सतर्कता ने मिलवाया परिवार से

by | Jan 30, 2022 | पालघर, महाराष्ट्र, वसई विरार

पालघर : माता-पिता द्वारा पढ़ाई के लिए दबाव बनाने के कारण अपना घर छोड़ने वाली 14 वर्षीय एक किशोरी पालघर जिले में एक ऑटोरिक्शा चालक की मदद से दोबारा अपने परिवार वालो से मिल पाई है.

मानिकपुर थाने के मुताबिक शनिवार सुबह ऑटो रिक्शा चालक राजू करवड़े यहां वसई स्टेशन के बाहर यात्रियों का इंतजार कर रहा था, तभी एक लड़की उसके पास पहुंची और पूछा कि क्या उसे इलाके में रहने के लिए कोई कमरा मिल सकता है. किशोरी ने ऑटोरिक्शा चालक को बताया कि वह नई दिल्ली की रहने वाली है और यहां अकेली आई है. ऑटोरिक्शा चालक ने इसकी सूचना तुरंत यातायात पुलिस के एक अधिकारी को दी और फिर लड़की को मानिकपुर पुलिस थाने ले गया.

किशोरी नई दिल्ली के पुष्प विहार की रहने वाली है वह घर से भाग कर आई थी उसकी मां उस पर पढ़ाई पर ध्यान देने का दबाव बना रही थी. पालघर पुलिस ने दिल्ली के साकेत थाने से संपर्क किया, जहां लड़की के माता-पिता ने अपहरण के आरोप में मामला दर्ज कराया था. पुलिस ने लड़की के माता-पिता को उसके ठिकाने की जानकारी दी. लड़की के माता-पिता विमान से वसई पहुंचे, जहां वह अपनी बेटी से मिल पाये. वहीं ऑटो रिक्शा चालक की सतर्कता और समझदारी के लिए उसे सम्मानित किया गया.अगर लड़की किसी गलत व्यक्ति के संपर्क में आती तो कुछ भी हो सकता था ।

यह न्यूज जरूर पढे