पालघर : आठ साल बाद भाई का हुआ भाई से मिलन,एक-दूसरे को देखते ही आंखे हुई नम

by | Jan 28, 2022 | पालघर, महाराष्ट्र

पालघर : अपनाघर आश्रम नोखा में 8 साल बाद बिछड़े हुए भाई से भाई का मिलन हुआ। 5 जनवरी 2016 को मानव सेवा चैरिटेबल ट्रस्ट सूरत में मुकेश प्रभु को भर्ती किया गया और वहाँ से 5 अप्रैल 2016 को अपना घर आश्रम जोधपुर में ट्रांसफर कर दिया गया । जोधपुर में वह स्वास्थ्य लाभ ले रहे थे इनका इलाज चल रहा था । 2 सितंबर 2021 को मुकेश प्रभु को नोखा आश्रम ट्रांसफर कर दिया गया नोखा आश्रम में आने के बाद इनका बराबर इलाज चल रहा था और यहां के सेवा साथियों ने उनके घर का पता लगाने का काफी प्रयास किया और 13 जनवरी को आखिरकार इनके घर का पता लगा लिया गया ।

आखिरकार इतने प्रयासों के बाद 15 जनवरी को इनके भाई निलेश चंदू नाईक और भतीजा बालू नारायण नाईक निवासी ,बोईसर रोड पालघर महाराष्ट्र से मुकेश प्रभु को लेने के लिए अपना घर आश्रम नोखा में पहुंचे । अपना घर आश्रम में आकर इन्होंने अपने भाई को देखा तो देखते ही उनकी आंखें नम हो गई दोनों भाई आपस में गले मिले । पुलिस थाने से स्वीकृति लेकर कागजी कार्रवाई पूर्ण करके घर भेजने की तैयारी कर ली गई और इनको अपने घर के लिए रवाना कर दिया गया।

यह न्यूज जरूर पढे