पालघर हुआ शर्मसार : पैसे के अभाव में नही मिली एम्बुलेंस,मजबूर बाप अपने जिगर के टुकड़े का शव मोटरसाइकिल पर बांधकर ले गया घर

by | Jan 28, 2022 | पालघर, महाराष्ट्र

पालघर जिले से शर्मशार करने वाली खबर सामने आई , जिले के आदिवासी गांव में एक शख्स को अपने 6 साल के बेटे के शव को बाइक से घर ले जाना पड़ा है. क्योकि उस शख्स के पास एंबुलेंस का खर्च उठाने की क्षमता नही थी जिस कारण उसे बाइक पर ही शव को लादकर घर ले जाना पड़ा.

व्यक्ति 24 जनवरी को अपने 6 साल के बेटे को अस्पताल लेकर आया था. बच्चे को ज्यादा बुखार था जिस कारण उसे एक निजी क्लिनिक में भर्ती कराया गया पर डॉक्टरों ने बच्चे को सरकारी अस्पाल ले जाने को कहा. जिसके बाद बच्चे का पिता पहले उसे मोखाडा सरकारी अस्पताल ले गया और फिर वहां से जव्हार ग्रामीण हॉस्पिटल ले गया. वहीं,एक दिन बात 25 जनवरी को बच्चे की इलाज के दौरान मौत हो गई. जानकारी सामने आई कि बच्चे के पिता ने अस्पताल में एंबुलेंस की व्यवस्था करने की भरसक कोशिश की लेकिन उसे कोई वाहन नहीं दिया गया क्योंकि उसके पास पैसे नहीं थे. अंत मे मजबूर पिता अपने बेटे के शव को बाइक पर लादकर ले जाने को तैयार हो गया.

परेशान व बेटे की मौत से टूट चुका पिता ने अपने 6 साल के बेटे के शव को बाइक से बांधा और देर रात 40 किलोमीटर दूर अपने घर ले गया. सोचो एक पिता के लिए ये पल कितने बुरे होंगे,अपने लाडले के शव को मोटरसाइकिल पर बांधकर फिर उसे घर ले जाना,आज के समय मे इस तरह की घटना बड़े बड़े वादों की पोल खोलते है।

इस पूरे मामले पर जिला स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. दयानंद सूर्यवंशी का बयान सामने आया वो भी हैरान कर देने वाला था । उन्होंने कहा, आमतौर पर शवों के लिए एंबुलेंस का इस्तेमाल नहीं किया जाता. वहीं, इस मामले में ड्राइवर मृत बच्चे को ले जाने को तैयार नहीं था. उन्होंने बताया कि, पहले हुई किसी घटना के चलते ग्रामीणों ने एंबुलेंस चालक को पीट दिया था जिस कारण उसने शव को ले जान से मना कर दिया. आगे उन्होंने बताया कि, ड्राइवरों ने बच्चे के पिता से पैसे मांगे लेकिन उनके पास नहीं थे जिस कारण उसे नहीं ले जाया गया.

यह न्यूज जरूर पढे