Love Jihad : पालघर की किशोरी ने जिसे इंस्टाग्राम पर राहुल समझकर दोस्ती की,वह निकला हैदर,घर से चोरी कर शादी करने पहुंची फरीदाबाद,जब आई सच्चाई सामने तो ……

by | Jan 25, 2022 | उत्तर प्रदेश, पालघर, महाराष्ट्र, वसई विरार

पालघर जिले की एक किशोरी को राजकीय रेलवे पुलिस ने लव जिहाद में फंसने से बचा लिया। किशोरी ने इंस्टाग्राम पर जिसे राहुल समझकर दोस्ती की, वह हैदर निकला। जब सच्चाई सामने आई तो किशोरी हैरान हो गई ।

हरिभूमि के हवाले से मिली जानकारी में किशोरी से इंस्टाग्राम से हुई दोस्ती में दोस्त ने शादी का वादा भी किया। किशोरी उसकी मीठी बातों में इस कदर फंसी कि वह अपना घर छोडक़र उससे मिलने फरीदाबाद रेलवे स्टेशन पर जा पहुंची । गनीमत यह रही कि जाल में फंसाने वाला युवक जब किशोरी से बातचीत कर रहा था तो रेलवे स्टेशन पर मौजूद जीआरपी के जवानों को उस पर शक हो गया।

जीआरपी ने जब युवक से पूछताछ की तो उसकी सच्चाई सामने आई। फरीदाबाद जिला बाल कल्याण समिति ने पालघर से परिजन को बुलाकर किशोरी को उन्हें सौंप दिया है, वहीं आरोपी युवक हैदर को महाराष्ट्र पुलिस लेकर गई है। आरोपित हैदर यहां गांव बडख़ल का रहने वाला है। बडख़ल गांव मुस्लिम बाहुल्य गांव है। बाल कल्याण समिति को किशोरी ने बताया कि इंस्टाग्राम पर करीब दो महीने पहले उसकी राहुल नामक युवक से दोस्ती हुई थी। राहुल ने उसे शादी का वादा किया और मिलने के लिए फरीदाबाद बुलाया। किशोरी अपने घर से गहने व रुपये लेकर पहले अमृतसर गई। इस दौरान उसके माता-पिता ने उसकी गुमशुदगी का मुकदमा दर्ज करा दिया। अमृतसर में दस दिन रहने के बाद वह फरीदाबाद राहुल से मिलने पहुंची। यहां वह फरीदाबाद रेलवे स्टेशन पर उससे मिली। युवक की बाडी लैंग्वेज से जीआरपी के जवानों को शक हुआ।

जीआरपी के जवानों ने जब युवक से पूछताछ की और उसकी आइडी चेक की तो उसका नाम हैदर निकला। यह जानकार किशोरी भी हैरान हो गई। उसने हैदर के साथ जाने से साफ मना कर दिया। जीआरपी ने राहुल उर्फ हैदर को हिरासत में लेकर महाराष्ट्र पुलिस को सूचित कर दिया। वहां की पुलिस ने फरीदाबाद आकर हैदर को गिरफ्तार कर लिया। बाल कल्याण समिति के चेयरमैन ने बताया कि महाराष्ट्र पुलिस की मौजूदगी में किशोरी को उसके परिजन को सौंप दिया है। उन्होंने कहा कि किशोरी बड़े जाल में फंसने से बच गई।

यह न्यूज जरूर पढे