सलोन: टिकट वितरण के बाद कांग्रेस में खुला विद्रोह, बेअसर नेता,कार्यकर्ताओं ने कहा,पार्टी खुद ही ‘कांग्रेस मुक्त भारत’ बनाएगी

by | Jan 15, 2022 | उत्तर प्रदेश, रायबरेली


राजकुमार
रायबरेली। सलोन विधानसभा क्षेत्र के लिये काँग्रेस प्रत्याशी अर्जुन पासी के चयन पर कई दावेदारों और उनके समर्थक संगठन के मनोनीत पदाधिकारियों ने नाराजगी जताते हुए पुनर्विचार करने अथवा त्याग पत्र स्वीकार करने की माँग की है।
सलोन के आशा मैरिज हाल में प्रायोजित एक बैठक में काँग्रेस के टिकट के लिए दावेदारी प्रस्तुत करने वाली श्रीमती किरन देवी के पति राजीव त्रिपाठी, स्वाती सिंह के ससुर चन्द्र शेखर रस्तोगी, मैकूलाल पासी, रजवाड़ी प्रसाद पासी तथा इन सबके कुछ समर्थकों द्वारा टिकट वितरण के प्रति नाराजगी जताई गई।
राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांँधी द्वारा लिए गये निर्णय के प्रति उन्हीं के निर्देशन में मनोनीत तीनों ब्लॉक काँग्रेस अध्यक्ष शिवदर्शन पासी, विष्णु कान्त मिश्र, जिला महासचिव मोबीन अहमद, जिला सचिव राजीव द्विवेदी और वरिष्ठ काँग्रेसी दिग्विजय सिंह, टी.एन.त्रिपाठी, परमात्मा दीन तिवारी आदि ने जिस तरह से पुनर्विचार करके इनकी सहमति से टिकट देनेअथवा त्याग पत्र स्वीकार करने की धमकी देते हुए पत्र प्रस्तुत किया उससे पार्टी की किरकिरी होना स्वाभाविक है।
जहाँ इन लोगों ने प्रत्याशी चयन का विरोध किया वहीं काँग्रेस के युवा कार्यकर्ता और संगठन से उपेक्षित वरिष्ठ लोग प्रियंका गांँधी के निर्णय के समर्थन में लामबंद हैं।
माहौल ऐसा बनता जा रहा है कि प्रत्याशी बदलने पर भी शेष दावेदार और संगठन में या बाहर बैठे उनके समर्थक बगावती तेवर जरूर अपनायेंगे। कुल मिलाकर कार्यकर्ताओं की अनुशासनहीनता पर लगाम न लगाई गई तो काँग्रेस कुछ लोगों की जेबी पार्टी बनकर रह जायेगी और 2022 क्या 2024 में भी उबर नहीं पायेगी।

यह न्यूज जरूर पढे