सलोन पुलिस की बड़ी कार्यवाही,अन्तर्जनपदीय गिरोह के 11डकैत गिरफ्तार

by | Jan 4, 2022 | उत्तर प्रदेश, रायबरेली


कामता नाथ सिंह
सलोन, रायबरेली। पुलिस अधीक्षक श्लोक कुमार के निर्देशन और सजग क्षेत्राधिकारी इन्द्र पाल सिंह के पर्यवेक्षण में सलोन सर्किल की पुलिस ने अपराधियों का जीना हराम कर रखा है। अपर पुलिस अधीक्षक विश्वजीत श्रीवास्तव द्वारा जानकारी दी गई कि मुखबिर की सूचना पर सलोन कोतवाली के तेजतर्रार प्रभारी निरीक्षक संजय कुमार त्यागी और एसओजी प्रभारी अमरेश कुमार त्रिपाठी ने संयुक्त कार्यवाही करते हुए 25000 के इनामियाँ और कई अपराधों के वांछित अपराधी शाकिर सहित 11 अन्तर्जनपदीय डकैतों को मय नाजायज असलहों, चोरी के उपकरणों और लूट की आंशिक रकम सहित मन्दिर के नीचे गड़े धन की खुदाई और डकैती की योजना बनाते हुए गिरफ्तार कर लिया।
बाबी उर्फ शाकिर पुत्र इजराइल निवासी कुरैशी का पुरवा मजरे राहाटीकर थाना उदयपुर, मूसा खान पुत्र इब्राहिम खान, निवासी रामपुर बावली थाना लालगंज अझारा, संदीप उर्फ कुलदीप तिवारी पुत्र कमलेश तिवारी निवासी उमदपुर थाना लालगंज अझारा, राजेश यादव पुत्र राम बहाल यादव व मंगल यादव पुत्र रामेश्वर यादव तथा सत्यम यादव पुत्र मंगल यादव निवासी गण पूरे गोसाईं का पुरवा पुरमरे सुलतान पुर थाना महेश गंज, राजेश शुक्ल पुत्र अम्बिका शुक्ल नि. बाभन की बखरी नरई थाना संग्राम गढ़, वृन्दावन मिश्र पुत्र सदानंद मिश्र नि. खैरा पूरे छेपी, थाना लालगंज अझारा, जसबीर यादव पुत्र रामपाल नि. वीरसिंह भूमभुरी थाना लालगंज अझारा, सभी जनपद प्रतापगढ़, स्वतंत्र कुमार पुत्र नन्दलाल नि.हरि शओम नगर थाना आलम बाग लखनऊ, प्रदीप पासी पुत्र राम आसरे,नि.सन्दीराम थाना मिल एरिया जनपद रायबरेली को पुलिस मुठभेड़ में सलोन थाना क्षेत्र में बन्द पड़ी वेस्पा फैक्ट्री बगहा के पास से डकैती की योजना बनाते गिरफ्तार कर लिया गया। पुलिस टीम पर जान से मारने की नीयत से सशस्त्र बदमाशों ने फायर किया किन्तु सभी बाल-बाल बच गये। गिरफ्तार अभियुक्तों के पास से 315 बोर के 03 अदद तमन्चा व 05 जिन्दा और 03 खाली कारतूस, 01अदद देशी तमन्चा, 6 जिन्दा और 1 खोखा कारतूस 12 बोर, 01 गुप्ती, 01 गैंती, 01 प्लास्टिक रस्सी 10 मीटर, चोरी की मोटरसाइकिल पल्सर वाहन नं. UP33 AQ 5259, घटना में प्रयुक्त एक स्कार्पियो UP72 AL 2765, चोरी-लूट के 4850₹, लोहे के दो राड तथा दो टार्च बरामद हुए।
इनमें से कई शातिर अभियुक्तों का अन्य जनपदों के थानों में भी आपराधिक इतिहास दर्ज है।पुलिस टीम में दोनों प्रभारियों के अतिरिक्त उपनिरीक्षक लक्ष्मी नारायण द्विवेदी, उ.नि. प्रवीर कुमार गौतम, पाँच मुख्य आरक्षी और दस आरक्षीगण शामिल थे। पुलिस अधीक्षक ने इस साहसिक कार्य के लिए पुलिस टीम को 10000₹ नकद धनराशि से पुरस्कृत किया है।

यह न्यूज जरूर पढे