दुर्व्यवस्थाओं से जूझता पालघर

by | Sep 13, 2020 | पालघर, महाराष्ट्र

वैसे पालघर को जिला बने काफी वक्त निकल गया पर आज भी पालघर शहर जिला मुख्यालय की हैसियत से विकास नही कर पाया,आज भी शहर कई समस्याओं से जूझता नजर आ रहा है ।

● राजेन्द्र एम. छीपा | हेडलाइंस 18

पालघर: पालघर की समस्याओं से पहले हम आपको पालघर के बारे में बताना चाहते है मुम्बई के से 87 किमी दूर उत्तर स्थित पालघर शहर है यहां पर नगरपरिषद है। यह मुम्बई उपनगरीय रेलवे के पश्चिमी लाइन पर स्थित है.महाराष्ट्र सरकार द्वारा 1 अगस्त 2015 को पालघर को 36वा जिला घोषित किया गया था ।
पालघर शहर मुम्बई अहमदाबाद नेशनल हाइवे 48 से 20 किलोमीटर दूरी पर स्थित है व वेस्टर्न रेलवे का स्टेशन भी है.
सागरी, डोंगरी व नागरी का अंग ठाणे जिला का विभाजन कर अलग हुआ पालघर महाराष्ट्र का 36 वा जिला है . कोंकण के उत्तर भाग में स्थित पालघर जिले के पूर्व में सह्याद्रि पर्वत व पच्छिम में अरब सागर का समुंद्री किनारा है ।
पालघर जिले में 8 तहसील है जव्हार, डहाणू, तलासरी, पालघर, मोखाडा, वसई, वाडा, और विक्रमगड.जिला का भौगोलिक क्षेत्र 469699 हेक्टर में फैला हुआ है.जिसमे 1008 गाँव व 3818 पाड़ा है जिसमे 477 ग्रामपंचायत का समावेश है.(आंकड़ों में कुछ अंतर हो सकता है )

पालघर नया जिला बनने पर 148 करोड़ 36 लाख रुपये खर्च की मंजूरी मिली थी.250 करोड़ अन्य खर्च,67 करोड़ 53 लाख फर्नीचर हेतु कुल मिलाकर 465 करोड़ 89 लाख की राशि आवंटन हुई थी । पालघर जिले में विंभिन्न 56 प्रशासकीय कार्यालय है.पालघर जिले में नगरपरिषद है यहाँ का STD कोड 02525 है परिहवहन रजिस्ट्रेशन MH48 के अंतर्गत आता है, वर्तमान में राजेंद्र गावित (shivsena) सांसद है, श्रीनिवास वनगा (shivsena) विधायक है व डॉ. उज्ज्वला काले नगराध्यक्ष है । पालघर शहर के स्टेशन से लगभग 3 किलोमीटर की दूरी पर नया जिला कार्यालय जिसमे कलेक्टर से लेकर मुख्य प्रशासनिक कार्यालयों की भव्य शानदार इमारत लगभग बनकर तैयार हो चुकी है तात्कालीन मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने भूमि पूजन कर उसकी नींव रखी थी अब कुछ महीनों में इसका उद्घाटन होने की संभावना है ।

पालघर शहर की प्रमुख समस्या


पालघर स्टेशन से पालघर कोर्ट,जिला अधिकारी कार्यालय के लिए कोई बस की व्यवस्था नही है लोगो को रिक्शा भाड़े पर करके जाना पड़ता है यह एक गम्भीर समस्या है.इसके अलावा स्टेशन पर पार्किंग की व्यवस्था नही होने से ट्राफिक की बड़ी समस्या रहती है दिनभर भारी जाम लगा रहता है । पालघर के इंस्ट्रीज क्षेत्र में जाने हेतु अलग से सड़क मार्ग होना चाहिए क्योंकि बड़े बड़े कंटेनर को पांच बत्ती से टर्न मारकर जाना दुर्घटनाओं को न्योता देना जैसा है साथ ही अलग से सड़क मार्ग होने पर शहर में ट्राफिक का लोड भी कम हो सकता है । शहर में उद्यान के नाम पर सिर्फ बाला साहेब ठाकरे उद्यान है व शहर में एक गणेश कुंड भी है जो सिर्फ गणेश विसर्जन में उपयोग में लिया जाता है अगर उसका भी सौन्दर्यकरण किया जाए तो आम लोगो के लिए एक अच्छी जगह उपलब्ध हो सकती है ।

पालघर शहर में शिक्षा हेतु आर्यन स्कूल,ट्विंकल स्कूल,
आंनद आश्रम,होली स्प्रिट,सैकरेड हर्ट,केनम स्कूल,सुंदरम,दांडेकर कॉलेज के अलावा अन्य स्कूलों का समावेश है ।

स्वास्थ्य सेवा को लेकर पूरा पालघर जिला पिछड़ा हुआ है शहर में धवले,कांता हॉस्पिटल,डॉ. चौहान,फिलिया हॉस्पिटल,डॉ. कामथ, डॉ. कोटी,
धड़ा हॉस्पिटल,पालघर नर्सिंग,गणेश हॉस्पिटल,श्रद्धा,सहित अन्य निजी अस्पताल है पर कोई बड़े सरकारी अस्पताल की जिला मुख्यालय पर व्यवस्था नही है जो विधमान में सरकारी हॉस्पिटल है उसकी दशा इतनी सही नही है कि उस पर निर्भर रहा जाए । पालघर में स्वास्थ्य सुविधा कमजोर होने के कारण जिलेवासीयो को मुंबई व गुजरात की तरफ भागना पड़ता है ।

पालघर शहर में लोगो के लिए रेस्टोरेंट व होटल में विवा सेलिब्रेशन,रसम रेस्टोरेंट,रसराज,लोकमान्य,सतगुरु,तासी ढाबा,मंश,वालन नाका,उन्नति,अशोका,साई रेजीडेंसी सहित अन्य होटल है

पालघर शहर से कमारे, काटाळे, केळवे, कोकणेर, खारेकुरण, दापोली, नागझरी, माहीम, वडराई, वाकसई, शिरगाव, सातपाटी व बाहर की यात्रा के लिए भी बसे उपलब्ध है जिसमे अहमदनगर, औरंगाबाद, कल्याण, चाळीसगांव, जळगाव, ठाणे, तारापूर, धुळे, नंदुरबार, नाशिक, पुणे, बोईसर, भिवंडी, मनोर, मिरज, वाडा, विक्रमगड, शिर्डी, सफाळे, सांगली, सातारा जैसे अनेक शहरी और ग्रामीण भाग में जाने हेतु महाराष्ट्र राज्य परिवहन मंडल की बस सुविधा है । पर शहर के विस्तार को देखते हुए लोकल शहरी बस की भी आवश्यकता है ताकी आमजन की परेशानी कम हो ।

वैसे पालघर को जिला बने वक्त तो काफी निकल गया पर जिला मुख्यालय की हैसियत से पालघर शहर आज भी समस्याओं से जूझता नजर आ रहा है ।

यह न्यूज जरूर पढे 

बोईसर | “सबको वैक्सीन, मुफ्त वैक्सीन” के  तहत MIDC में वैक्सीन के लिए लोगो का लगा तांता

बोईसर | “सबको वैक्सीन, मुफ्त वैक्सीन” के तहत MIDC में वैक्सीन के लिए लोगो का लगा तांता

हेडलाइंस18 नेटवर्कबोईसर :-कोरोना महामारी से बचने के लिए सरकार द्वारा मुफ्त वैक्सीन लगाने की जगह जगह व्यवस्था की जा रही है। इसी के तहत तारापुर उद्योग क्षेत्र के प्लॉट न.एन-201 में डी. पी.कंस्ट्रक्शन के देवी सिंह,अल्फा डाय केम प्रा.लि. के डायरेक्टर रमेश बाफना, यूनीसिंथ...

महाराष्ट्र | मुगल शासक औरंगजेब के खिलाफ सोशल मीडिया पर पोस्ट को लेकर सैकड़ो लोगो की भीड़ ने उस्मानाबाद में किया पथराव, चार पुलिसकर्मी घायल

महाराष्ट्र | मुगल शासक औरंगजेब के खिलाफ सोशल मीडिया पर पोस्ट को लेकर सैकड़ो लोगो की भीड़ ने उस्मानाबाद में किया पथराव, चार पुलिसकर्मी घायल

औरंगाबाद : मुगल शासक औरंगजेब के खिलाफ फेसबुक पर एक आपत्तिजनक पोस्ट को लेकर सैकड़ों लोगों की भीड़ आक्रोशित हो गई। भीड़ ने महाराष्ट्र के उस्मानाबाद शहर में सड़क पर लगे पोस्टरों और वाहनों पर कथित रूप से पथराव किया। इसमें चार पुलिसकर्मी घायल हो गए। पुलिस ने बताया कि यह...

पालघर: गुटखा की बड़ी तस्करी का पर्दाफाश,21 लाख से ज्यादा का माल जप्त

पालघर: गुटखा की बड़ी तस्करी का पर्दाफाश,21 लाख से ज्यादा का माल जप्त

हेडलाइंस18 नेटवर्कपालघर ; वसई तालुका के अलग1 - अलग पुलिस स्टेशन क्षेत्र में प्रतिबंधित पदार्थ पर पुलिस ने ताबड़तोड़ कार्रवाई करते हुए वाहन सहित लाखों रुपये का माल बरामद किया है। पुलिस ने कुल 5 आरोपियों पर मामला दर्ज किया है। पुलिस ने यह जानकारी बुधवार को दी है। गौरतलब...