अब आप पालघर सहित इन शहरों के समंदर के बेहद करीब ले सकते है सपनों का घर,सरकार का बड़ा फैसला

by | Oct 1, 2021 | ठाणे, पालघर, महाराष्ट्र, मुंबई, वसई विरार

पालघर : पर्यावरण, वन और जलवायु परिवर्तन मंत्रालय ने महाराष्ट्र में मुंबई और मुंबई उपनगरों के लिए बहुप्रतीक्षित तटीय क्षेत्र प्रबंधन योजना (CZMP) को मंजूरी दे दी है.एक रिपोर्ट के मुताबिक इस योजना से शहर में कई हाउसिंग सोसाइटी और स्लम का पुनर्विकास होगा.

राष्ट्रीय तटीय क्षेत्र प्रबंधन प्राधिकरण ने 16 अगस्त को आयोजित अपनी 43वीं बैठक में सीआरजेड अधिसूचना 2019 के अनुसार मुंबई शहर और महाराष्ट्र के मुंबई उपनगरीय जिले के सीजेडएमपी को मंजूरी के लिए सिफारिश की थी. एनसीजेडएमए ने आगे निर्णय लिया कि मुंबई शहर और मुंबई उपनगरीय जिलों के सीजेडएमपी में ईएसजेड को भी शामिल किया जाएगा. सीआरजेड अधिसूचना में कहा गया है कि एनसीजेडएमए ने फैसला किया है कि अधिसूचित ईएसजेड में प्रतिबंधित सीजेडएमपी के तहत आने वाली गतिविधियां, परियोजनाएं, यदि कोई हो तो वो उस क्षेत्र में प्रतिबंधित रहेंगी.


महाराष्ट्र सरकार ने मुंबई शहर, उसके उपनगरीय क्षेत्रों, ठाणे, पालघर जिला क्षेत्र, रायगढ़ और रत्नागिरी के लिए तटीय विनियमन क्षेत्र 2019 की अधिसूचना के अनुसार तटीय क्षेत्र प्रबंधन योजना तैयार करने की प्रक्रिया में तेजी लाने के लिए केंद्र सरकार से संपर्क किया है. 2019 तटीय विनियमन क्षेत्र (CRZ) मानदंडों के आधार पर 2019 में केंद्रीय पर्यावरण मंत्रालय के तहत NCSCM द्वारा महाराष्ट्र के सभी तटीय जिलों के लिए CZMP नक्शे का मसौदा तैयार किया गया था.

यह न्यूज जरूर पढे