यूँ ही नहीं है गणेश जी को दूर्वा प्रिय

by | Sep 14, 2021 | ठाणे, महाराष्ट्र, मुंबई

धर्मेन्द्र उपाध्याय

मुंबई।प्रत्येक भक्त चाहता है कि वह श्री गणेश जी को प्रसन्न करे और उनका कृपापात्र बनें. सच पूछिए तो हमारी और आपकी भी यही इच्छा है. यही वजह है कि उनकी प्रत्येक पूजा में हम उनकी पसंदीदा पूजन सामग्रियों से उनका पूजन करते हैं. गणपति जी को अर्पित की जाने वाली सभी पूजन सामग्रियों में दूर्वा का अत्यंत विशिष्ट स्थान है। ऐसी मान्यता है कि भगवान श्री गणेश जी की षडोपचार एवं पंचोपचार पूजन दूर्वा के बिना अधूरी है. यूँ तो दूर्वा का उपयोग अनेक पूजा कार्यों में किया जाता रहा है, लेकिन गणेश जी को यह अत्यंत क्यों प्रिय है क्या आप जानते हैं ? यदि नहीं तो आइए ज्योतिषाचार्य पंडित अतुल शास्त्री से जानते हैं इसकी विस्तृत जानकारी. ज्योतिषाचार्य कहते हैं, ”दूर्वा जिसे दूब, घास, कुशा, अमृता, शतपर्वा, अनंता, औषधि इत्यादि नामों से जाना जाता है, श्री गणेश जी को अत्यंत प्रिय है। दूर्वा की उत्पति की कथा समुद्र मंथन से जुड़ी हुई है, जिसके अनुसार जब समुद्र मंथन से अमृत की प्राप्ति हुई तो अमृत को लेकर देवों और दैत्यों में जो उत्पात मचा उसके कारण अमृत कलश में से अमृत की कुछ बूंदें पृथ्वी पर भी गिर गईं. यही बूंदे दूर्वा की उत्पत्ति का कारण बनी. अत: दुर्वा को सिर्फ गणेश पूजन में ही नहीं अपितु सभी पूजा में बहुत ही शुभ माना जाता है। इसके अलावा गणेश पूजन में दूर्वा का विशेष महत्व क्यों है इससे जुड़ी हमारे पुराणों में एक कथा भी मिलती है, जो इस प्रकार है:
अनलासुर नामक दैत्य ने जब तीनों लोकों पर अपना अधिपत्य स्थापित करना चाहा तो उसके अत्याचारों से देवता भी त्रस्त होने लगे और पृथ्वी पर मौजूद सभी लोगों पर उस दैत्य का कोप बढ़ गया. उसके कारण चारों तरफ मची अफरातफरी को शांत करने हेतु सभी देवता एवं ऋषि मुनि भगवान श्री गणेश की शरण में गए. भक्तों की इस करुण व्यथा को दूर करने हेतु गणेश जी ने अनलासुर के साथ युद्ध किया और उसे निगल लिया. अनलासुर को निगल जाने पर गणेश जी का शरीर अग्नि के समान तपने लगा और उनके पेट में बहुत जलन होने लगी. इस जलन को शांत करने के कई उपाय किए गए किंतु किसी से लाभ नहीं पहुंचा, तब महर्षि कश्यप जी ने गणेश जी को दूर्वा खाने को दिया. दूर्वा में 21 गांठ लगाकर गणेश जी ने दूर्वा का सेवन जैसे ही किया, उसके खाने भर से उनके पेट की जलन शांत हो गई. गणपति जी इससे बहुत प्रसन्न हुए और उन्होंने दूर्वा को अपने लिए एक महत्वपूर्ण वस्तु के रुप में स्वीकार कर लिया।

यह न्यूज जरूर पढे 

पालघर : कोडेन फॉस्फेड’ युक्त कफ सीरप की 7900 बोतले जब्त,एक गिरफ्तार

पालघर : कोडेन फॉस्फेड’ युक्त कफ सीरप की 7900 बोतले जब्त,एक गिरफ्तार

हेडलाइंस18 नेटवर्कपालघर : मुंबई पुलिस की नशा निरोधक शाखा ने एक अभियान में एक व्यक्ति को गिरफ्तार कर उसके पास से कफ सीरप की 7900 बोतलें जब्त की है जिसकी कीमत 23.70 लाख रुपये बतायी गयी है। अधिकारी ने जानकारी देते हुए बताया कि एक गुप्त सूचना के आधार पर पुलिस की नशा...

पालघर : पुलिस ने कुख्यात गुंडे को हथकड़ी पहनाकर घुमाया उसी के इलाके में,सोशल मीडिया पर वायरल हुआ वीडियो

पालघर : पुलिस ने कुख्यात गुंडे को हथकड़ी पहनाकर घुमाया उसी के इलाके में,सोशल मीडिया पर वायरल हुआ वीडियो

हेडलाइंस18 नेटवर्कपालघर : पुलिस ने सोमवार दोपहर जावेद अंसारी नामक गुंडे को उसके इलाके में हथकड़ी पहनाकर उसका जुलूस निकाला। यह देखकर अंसारी के दहशत में रह रहे नागरिकों ने खुशी जाहिर की और उसका वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया। https://youtu.be/wC5c8IMOzqw जावेद...

भाजपा से संजय उपाध्याय व कांग्रेस से रजनी पाटिल होंगे राज्यसभा उम्मीदवार

भाजपा से संजय उपाध्याय व कांग्रेस से रजनी पाटिल होंगे राज्यसभा उम्मीदवार

मुंबई : कांग्रेस ने अगले महीने होने वाले राज्यसभा उपचुनाव के लिए पार्टी की वरिष्ठ नेता रजनी पाटिल को उम्मीदवार बनाने की सोमवार को घोषणा की। राजीव सातव के निधन के कारण यह उपचुनाव कराया जा रहा है। कांग्रेस ने एक विज्ञप्ति में कहा कि पाटिल शिवसेना के नेतृत्व वाले महा...