पालघर | शक्तिवर्धक तेल के नाम पर 38 लाख की ठगी,पूरे महाराष्ट्र में फैला है इस गिरोह का नेटवर्क,4 गिरफ्तार

by | Aug 22, 2021 | पालघर, महाराष्ट्र

हेडलाइंस18 नेटवर्क
पालघर । यौन शक्ति बढ़ाने वाले लिंगो ऑयल की सस्ते दाम पर सप्लाई करने का झांसा देकर ठगी करने वाले नाइजीरिया के नागरिक समेत चार को साइबर क्राइम सेल ने महाराष्ट्र के पालघर जिले से गिरफ्तार किया है।
आरोपियों ने गौतमपल्ली थाना क्षेत्र में एक व्यक्ति से लिंगो ऑयल की सप्लाई के नाम पर 38 लाख रुपये ठगे थे।

गौतमपल्ली थाने में अशोक सिंह ने वर्ष 2020 में 38 लाख रुपये की ठगी की रिपोर्ट दर्ज कराई थी। बताया था कि उनकी दुकान पर आए एक एजेंट ने यौन शक्ति बढ़ाने वाले लिंगो लिक्विड ऑयल की सप्लाई की थी। कुछ समय बाद लिंगो ऑयल की बिक्री में मोटे मुनाफे का झांसा देकर उससे 38 लाख रुपये बैंक खाते में जमा करा लिए। इसके बाद कंपनी के एजेंट समेत अन्य लोगों के मोबाइल फोन बंद हो गए।
साइबर क्राइम सेल के इंस्पेक्टर मथुरा राय ने बताया कि मामले में सर्विलांस व अन्य माध्यमों से छानबीन के बाद महाराष्ट्र के पालघर जिले से चार आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है। इसमें जॉन उर्फ पैट्रिक उर्फ ओगू इफानी माइकल मूल निवासी नाइजीरिया व हाल पता नाला सोपारा ईस्ट, मुंबई, महेश महादेव पवार निवासी अष्ट विनायक अपार्टमेंट, चंदन सर रोड, विरार ईस्ट, मुंबई, चेतन पांडूरंग निवासी थाना केवड़ा, पालघर और विक्रांत मंगेश शिरोडकर निवासी नक्षत्र अपार्टमेंट, नायगांव, थाना वालीव, पालघर, महाराष्ट्र हैं। आरोपियों के पास से ऊषा ब्रांड के लिंगो लिक्विड ऑयल के एक-एक लीटर के 12 गैलन, एक कार व दो मोबाइल बरामद हुए हैं। इंस्पेक्टर ने बताया कि मामले में विधिक कार्रवाई की जा रही है।
ऐसे बनाते थे शिकार
ठगों के गैंग के लोग दवा कारोबारियों से फेसबुक, ई-मेल या फिर फोन पर संपर्क कर खुद को लिंगो लिक्विड ऑयल कंपनी का एजेंट बताते थे। यौन शक्ति बढ़ाने वाले इस तेल की कीमत करीब 1.80 लाख रुपये प्रति लीटर है। इसके बावजूद गिरोह के सदस्य कारोबारियों को सस्ते दाम पर सप्लाई कर देते थे। फिर गैंग का दूसरा सदस्य उन्हीं कारोबारियों के यहां जाकर वही माल महंगे दाम पर खरीद लेता था। इससे कारोबारी को लगता था कि ये तो वाकई बड़े मुनाफे का काम है। मगर जब वो बड़ा ऑर्डर देता तो खाते में रकम जमा कराकर उसे नकली माल भेज दिया जाता था। यदि इसकी शिकायत होती थी तो उक्त कारोबारी को शिकार बनाने वाले गैंग के सदस्य अपना मोबाइल नंबर बंद कर देते थे। शिकायत नहीं आई तो ऑर्डर लेकर दोबारा नकली लिंगो ऑयल सप्लाई कर देते थे।
पूरे महाराष्ट्र में है गिरोह का नेटवर्क
साइबर क्राइम सेल के इंस्पेक्टर मथुरा राय ने बताया कि ये गिरोह काफी समय से लिंगो ऑयल के नाम पर ठगी कर रहा है। आरोपियों के खिलाफ महाराष्ट्र के औरंगाबाद जिले के कांति चौक और मुंबई के डिंडोसी थाने समेत अन्य जिलों में कई केस दर्ज होने की जानकारी मिली है। नाइजीरिया का ओगू इफानी माइकल, विक्रांत मंगेश शिरोडकर व गुड्डू को मुंबई के डिंडोसी थाने की पुलिस पूर्व में गिरफ्तार कर जेल भेज चुकी है। गैंग के बदमाश गुड्डू की कुछ समय पहले बीमारी से मौत हो चुकी है। गैंग के अन्य सदस्यों और ठगी के शिकार लोगों की जानकारी की जा रही है।

यह न्यूज जरूर पढे