राम मंदिर ट्रस्ट को बदनाम करने की कुछ राजनैतिक दलों की नापाक कोशिश : 24 घंटे में खुली दावे की पोल,10 साल पूर्व दो करोड़ में हुआ था भूमि का एग्रीमेंट

by | Jun 15, 2021 | देश/विदेश

रामजन्मभूमि ट्रस्ट पर आरोपो की झड़ी लगाते हुए कांग्रेस,सपा व आम आदमी पार्टी के बाद शिवसेना ने भी ट्रस्ट से सफाई मांगी थी ।

रामजन्मभूमि परिसर से कुछ ही फासले पर स्थित मुहल्ला बाग बिजेसी की जिस भूमि की खरीद में रविवार को सपा नेता एवं प्रदेश सरकार के पूर्व मंत्री तेजनारायण पांडेय पवन ने घोटाले का आरोप लगाया था, उस आरोप की हवा 24 घंटे के भीतर ही निकलने लगी। सपा नेता के आरोप का मुख्य आधार यह था कि जिस भूमि का इसी वर्ष 18 मार्च को तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट ने 18.50 करोड़ में रजिस्टर्ड एग्रीमेंट कराया, उस भूमि का एग्रीमेंट करने वाले रविमोहन तिवारी एवं सुल्तान अंसारी ने उसी तारीख को 10 मिनट पूर्व ही मात्र दो करोड़ रुपये में बैनामा कराया था।

यह बताने के साथ पूर्व मंत्री ने आरोप लगाया था कि दो करोड़ की भूमि 18.50 करोड़ में एग्रीमेंट कराने के पीछे करोड़ों का घोटाला किया गया। जबकि सच्चाई यह है कि संबंधित भूमि का चार मार्च 2011 को यानी 10 साल पूर्व ही मो.इरफान, हरिदास एवं कुसुम पाठक ने दो करोड़ में रजिस्टर्ड एग्रीमेंट कराया था। तीन साल बाद इस एग्रीमेंट का नवीनीकरण भी कराया गया। यह भूमि 2017 में हरिदास एवं कुसुम पाठक ने भू स्वामी नूर आलम, महफूज आलम एवं जावेद आलम से बैनामा करा ली और हरिदास एवं कुसुम पाठक से यह भूमि 17 सितंबर 2019 को रविमोहन तिवारी, सुल्तान अंसारी आदि आठ लोगों ने एग्रीमेंट करा ली और रविमोहन एवं सुल्तान अंसारी ने ही 18 मार्च को यह भूमि बैनामा करा ली।

पूर्व मंत्री जिस भूमि को दो करोड़ का बता कर उसे 18.50 करोड़ में क्रय किए जाने पर आपत्ति जता रहे हैं, तय सर्किल रेट चार हजार आठ सौ रुपये प्रति वर्ग मीटर के हिसाब से भी उसकी मालियत पांच करोड़ 79 लाख 84 हजार तय होती है। जबकि मालियत से इतर बाग बिजेसी एवं रामनगरी के आस-पास की जमीन का मौजूदा औसत मूल्य दो हजार रुपए प्रति वर्ग फीट है और इस हिसाब से देखें तो ट्रस्ट ने संबंधित भूमि के लिए औसत मूल्य से भी काफी कम कीमत चुकाई है। संबंधित भूमि का क्षेत्रफल 12 हजार 80 वर्ग मीटर यानी एक लाख 29 हजार 981 वर्ग फीट है और इस हिसाब से ट्रस्ट ने 1423 रुपये प्रति वर्ग फीट से जमीन की कीमत अदा की है।
ट्रस्ट के नाम संबंधित भूमि का रजिस्टर्ड एग्रीमेंट करने वाले सुल्तान अंसारी का कहना है कि संबंधित भूमि के क्रय-विक्रय में न हमने और न ट्रस्ट ने कोई धोखा किया है। घपले का आरोप लगाने वाले अनर्गल प्रलाप कर रहे हैं। सच्चाई यह है कि एक दशक पूर्व अयोध्या में जब जमीन की कीमत काफी कम थी, तभी हम लोगों ने दो करोड़ में संबंंधित भूमि का एग्रीमेंट कराया था। यह कहना गलत है कि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट को दी गई भूमि में जमकर मलाई काटी गई, जबकि सच्चाई यह है कि राम मंदिर में सहयोग को ध्यान में रखकर इस जमीन को बाजार भाव से काफी कम में एग्रीमेंट किया गया है।

यह न्यूज जरूर पढे 

महाराष्ट्र: रायगढ़ जिले में भीषण बारिश के बाद भूस्खलन,36 की मौत

महाराष्ट्र: रायगढ़ जिले में भीषण बारिश के बाद भूस्खलन,36 की मौत

महाराष्ट्र के कई जिलों में भारी बारिश जारी है, जिससे रायगढ़ जिले में बारिश के बाद हुए भूस्खलन से 36 लोगों की मौत की खबर सामने आ रही है। यह हादसा महाड तालुका के सखार सुतार वाड़ी में हुआ है।राज्य के कोंकण क्षेत्र में लगातार बारिश जारी है। जिले में बाढ़ प्रभावित...

हद कर दी : सोशल मीडिया पर फेमस होने की भूख में माँ ने अपने नाबालिग बच्चे के साथ ही बना डाले आपत्तिजनक वीडियो

हद कर दी : सोशल मीडिया पर फेमस होने की भूख में माँ ने अपने नाबालिग बच्चे के साथ ही बना डाले आपत्तिजनक वीडियो

सोशल मीडिया पर वायरल होने और अन्य से ज्यादा लोकप्रिय होने के लिए लोग तरह-तरह के नुस्खे अपनाते हैं लेकिन कई बार ये होड़ सारी हदें पार कर देते हैं. कुछ ऐसा ही मामला दिल्ली से सामने आया है जहां सोशल मीडिया पर पॉपूलेरिटी के लिए एक महिला ने अपने 10-12 साल के नाबालिग बेटे...

बिजनेसमैन राज कुंद्रा को क्राइम ब्रांच ने किया गिरफ्तार, जानिए क्या है पूरा मामला

बिजनेसमैन राज कुंद्रा को क्राइम ब्रांच ने किया गिरफ्तार, जानिए क्या है पूरा मामला

मुंबई. क्राइम ब्रांच ने बॉलीवुड एक्ट्रेस शिल्पा शेट्टी (Shilpa Shetty) के पति व बिजनेसमैन राज कुंद्रा (Raj Kundra) को अश्लील फिल्में बनाने और कुछ ऐप के जरिए प्रकाशित करने के मामले में गिरफ्तार किया है. न्यूज एजेंसी एएनआई (ANI) के मुताबिक मुंबई पुलिस कमिश्नर ने इस...