महाराष्ट्र : एक और वजनदार मंत्री सहित 5 अधिकारियों पर करोड़ों की वसूली का आरोप, उन्ही के विभाग के अधिकारी की शिकायत पर जांच शुरू

by | May 29, 2021 | महाराष्ट्र, मुंबई

महाराष्ट्र पूर्व गृह मंत्री अनिल देशमुख पर लगे वसूली के आरोप के बाद अब परिवहन मंत्री अनिल परब पर करोड़ों रुपए की वसूली के आरोप लगे हैं. ये आरोप उन्हीं के यातायात विभाग के एक निलंबित अधिकारी ने लगाए हैं.
नासिक के पंचवटी पुलिस स्टेशन में शिकायत मिलने के बाद नासिक पुलिस कमिश्नर ने मामले की प्राथमिक जांच करने के आदेश डिसीपी क्राइम को दिए हैं. खास बात यह है कि एक पुराने फैसले का आधार लेते हुए फिलहाल इस मामले में एफआईआर न दर्ज करने की भी बात सीपी के आदेश में कही गई है. ऐसे में अब विपक्ष सवाल यह उठा रहा है कि क्या केवल खानापूर्ति के लिए पुलिस जांच की बात कह रही है या किसी दबाव में आकर पुलिस को यह फैसला लेना पड़ा है.
नाशिक के पंचवटी पुलिस स्टेशन में निलंबित RTO इंस्पेक्टर गजेंद्र पाटील ने परिवहन मंत्री अनिल परब ट्रांसपोर्ट कमिश्नर अविनाश ढाकने सहित 5 अधिकारियों के खिलाफ करोड़ रुपयों की वसूली के आरोप लगाए हैं. गजेंद्र पाटील ने पुलिस स्टेशन में जो शिकायत दर्ज कराई है जिसके मुताबिक आरटीओ अधिकारियों की ट्रांसफर पोस्टिंग के लिए करोड़ों रुपए की मोटी रकम परिवहन मंत्री अनिल परब के इशारे पर वसूली जाती थी. शिकायत पत्र में गजेंद्र पाटील ट्रांसफर पोस्टिंग में 250 से 300 करोड़ रुपए वसूले जाने का आरोप लगाया है.
पाटिल के मुताबिक ट्रांसफर पोस्टिंग का मास्टरमाइंड बजरंग खरमाटे जो कि डेप्युटी आरटीओ वर्धा है वो मंत्री अनिल परब के इशारे पर और ट्रांसपोर्ट कमिश्नर के साथ मिलकर इस रैकेट को चलाता है. पुलिस ने शिकायत मिलने के 13 दिनों के बाद इस मामले की प्राथमिक जांच के आदेश डीसीपी क्राइम नासिक को दे दिए हैं.

यह न्यूज जरूर पढे