जिजाऊ शैक्षणिक व सामाजिक संस्था ने कोंकण विभाग के पांचों जिलो में कोरोना से अनाथ हुए बच्चो के शिक्षा व रहने की उठाई जिम्मेदारी,संस्थापक नीलेश सांबरे ने मुख्यमंत्री से मांगी अनुमति

by | May 22, 2021 | पालघर, महाराष्ट्र

समाजसेवा ,मानवसेवा व गरीबो के मसीहा जिजाऊ शैक्षणिक व सामाजिक संस्था के संस्थापक नीलेश सांबरे ने लोगो के दिल मे एक अलग जगह बनाये हुए है । अब इनकी संस्था के जरिये कोंकण के 5 जिलों के कोरोना से अनाथ हुए बच्चो की शिक्षा व रहने की जिम्मेदारी लेना इनके विशाल व दानवीर हृदय को दर्शाता है ।

हेडलाइंस18 नेटवर्क
पालघर ; जिजाऊ शैक्षणिक व सामाजिक संस्था के अध्यक्ष नीलेश सांबरे ने कोरोना संक्रमण के कारण जिन्होंने अपने माता-पिता का छाया खो लिया है उन सभी अनाथों की शिक्षा व रहने की जिम्मेदारी लेते हुए परोपकार की एक अच्छी मिसाल पेश की है। उन्होंने मुख्यमंत्री से भी इस संदर्भ में अनुमति देने की मांग की है ।


शैक्षणिक व सामाजिक संस्था पालघर जिले सहित पूरे कोंकण में एकमात्र संस्था है जो अपने व्यापार से हुए मुनाफे द्वारा स्वास्थ्य, शिक्षा, खेल और संबंधित प्रणालियों की स्थापना करता है। वैसे कई सामाजिक संगठन हैं जो सरकार या सीएसआर फंड का उपयोग करके सामाजिक गतिविधियों को अंजाम देते हैं, बिना किसी बाहरी मदद के नेत्रहीन और विकलांग बच्चो के लिए शाला और उनके रहने, भोजन, कपड़े आदि का भुगतान भी संस्था करती है । साथ ही एक स्कूल स्थापित किया जो अपनी माता के नाम भावनादेवी महाविद्यालय जिसमे कोंकण क्षेत्र के जरूरतमंद छात्र छात्राओं के लिए यूपीएससी, एमपीएससी परीक्षा की तैयारी के लिए स्कूल बिना शुल्क चलाया जाता है । विक्रमगढ़, जवाहर, वाडा और अतिदुर्गम, आदिवासी बहुल क्षेत्रों में मुफ्त स्वास्थ्य देखभाल प्रसूति,सोनोग्राफी जैसी सेवा प्रदान करने के लिए पिता भगवान सांबरे के नाम पर अस्पताल बनाकर मानवसेवा कर रहे है । नीलेश सांबरे इसके अलावा भी कई सामाजिक कार्य कर रहे हैं इनकी संस्था छात्रों की उच्च शिक्षा के लिए फीस देना,महिला सक्षमीकरण हेतु सहयोग करती है।
नीलेश सांबरे ने मुख्यमंत्री से मांग की है कि कोंकण के पांचों जिले के कोरोना महामारी से जिन्होंने अपने माँ बाप को खो लिया है उन अनाथ बच्चों की शिक्षा की जिम्मेदारी उनकी जिजाऊ संस्था को दी जाए ।

यह न्यूज जरूर पढे 

महाराष्ट्र: रायगढ़ जिले में भीषण बारिश के बाद भूस्खलन,36 की मौत

महाराष्ट्र: रायगढ़ जिले में भीषण बारिश के बाद भूस्खलन,36 की मौत

महाराष्ट्र के कई जिलों में भारी बारिश जारी है, जिससे रायगढ़ जिले में बारिश के बाद हुए भूस्खलन से 36 लोगों की मौत की खबर सामने आ रही है। यह हादसा महाड तालुका के सखार सुतार वाड़ी में हुआ है।राज्य के कोंकण क्षेत्र में लगातार बारिश जारी है। जिले में बाढ़ प्रभावित...

ठाणे जिला मे भारी बारिश , कई स्थानों पर बाढ़ की स्थिति

ठाणे जिला मे भारी बारिश , कई स्थानों पर बाढ़ की स्थिति

मिथिलेश गुप्ता डोंबिवली : मुंबई, ठाणे और ठाणे जिलों में कल्याण-डोंबिवली, बदलापुर, भिवंडी, शाहपुर, अंबरनाथ और शाहद जिलों में भारी बारिश हुई. डोंबिवली के पास देवीचापाड़ा, कोपर, मोठगाँव ठाकुर्ली, गरीबांच्य वाडा, राजू नगर, कुंभरखान पाड़ा में बाढ़ आ गई है। डोंबिवली पश्चिम...

पालघर में फिर तार-तार हुई इंसानियत, कोरोना मरीजों को परोस दिया……

पालघर में फिर तार-तार हुई इंसानियत, कोरोना मरीजों को परोस दिया……

भारतीय जनता पार्टी के विधान परिषद सदस्य निरंजन दावखरे ने बुधवार को दावा किया कि पालघर जिले के एक कोविड-19 देखभाल केंद्र में मरीजों को कीड़ा लगा भोजन परोसा जा रहा है।एमएलसी ने विक्रमगढ़ में राज्य सरकार द्वारा संचालित कोविड-19 देखभाल केंद्र में भोजन की आपूर्ति करने वाले...