पालघर रेलवे स्टेशन पर ट्रेन के डिब्बों में तैयार हुआ 415 बेड का आइसोलेशन वॉर्ड, होंगी ये सुविधाएं

by | May 4, 2021 | कोविड 19, देश/विदेश, पालघर, महाराष्ट्र, मुंबई, वसई विरार

हेडलाइंस18

कोरोना संक्रमितों के लिए भारतीय रेलवे महाराष्ट्र (Maharashtra), गुजरात (Gujarat) एवं मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) में आइसोलेशन कोच (Isolation Coach) उपलब्ध करा रहा हैं।सीपीआरओ सुमित ठाकुर के अनुसार, पश्चिम रेलवे द्वारा कुल 386 आइसोलेशन कोच तैयार किये गये हैं, जिनमें मुंबई मंडल में 128 आइसोलेशन कोच उपलब्ध हैं। जिला प्रशासन के अनुरोध पर 24 कोच का एक रेक मुंबई के पास पालघर में रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म क्रमांक 3 पर रखा गया है।रेलवे से मिली जानकारी के मुताबिक आज रात तक इस आइसोलेशन कोच को पालघर स्थानीय प्रशासन को सौंप दिया जाएगा और 5 मई से इसमें मरीजों को भर्ती करने की प्रक्रिया शुरू हो जाएगी।

पालघर में 415 मरीजों की व्यवस्था

पालघर में बने 24 आइसोलेशन कोच के रेक में 415 मरीजों को भर्ती करने की व्यवस्था है। प्रत्येक कोच में 2 ऑक्सीजन सिलेंडर उपलब्ध है। 23 कोच में मरीजों को भर्ती करने की व्यवस्था है। जबकि एक कोच मेडिकल स्टॉप के लिए रखा गया है। मंगलवार को सांसद राजेन्द्र गावित जिलाधिकारी माणिक गुरसल और नगराध्यक्षा उज्वला काले की उपस्थिति में कोच में मरीजो के उपचार की शुरुआत की गई। कोच के दोनों ओर खिड़कियों को मच्छर जाली से कवर किया गया है। प्रत्येक मरीज के लिए बेडरोल एवं डस्टबिन उपलब्ध कराये गए है। प्रत्येक कोच में एक बाथ रूम तथा तीन शौचालय उपलब्ध हैं। सभी कोचों में पानी और बिजली की सुविधा दी गई है। गर्मी को देखते हुए कोच के अंदर के तापमान को कम करने के लिए कोच की छत को जूट के कपड़े से कवर किया गया है और कूलर भी लगाए गए हैं। कोविड मरीजों की देखभाल करने वाले डॉक्टरों एवं मेडिकल स्टाफ के लिए अलग व्यवस्था है। रेल मंत्रालय के निर्देश पर रेलवे ने देश के विभिन्न स्थानों पर लगभग 4000 कोविड देखभाल कोच को उपलब्ध कराया है जिनकी कुल क्षमता लगभग 64000 बिस्तरों की है। इन आइसोलेशन कोचों को आसानी से स्थानांतरित किया जा सकता है। राज्य सरकारों को उनकी मांग के अनुसार आइसोलेशन कोच उपलब्ध कराये जा रहे हैं।

यह न्यूज जरूर पढे 

बीमा कंपनियों के खिलाफ शिवसेना नेता द्वारा सुप्रीम कोर्ट में की जाएगी याचिका दायर

बीमा कंपनियों के खिलाफ शिवसेना नेता द्वारा सुप्रीम कोर्ट में की जाएगी याचिका दायर

मिथिलेश गुप्ताडोंबिवली : कोरोना की शुरुआत में मरीजों का मुफ्त इलाज किया गया. निःशुल्क उपचार प्राप्त करने वाले चालीस प्रतिशत रोगियों के पास स्वास्थ्य बीमा पॉलिसी थी. उन कंपनियों ने इसका लाभ मरीजों को नहीं दिया. कंपनियों ने सीधे पॉलिसीधारक को चूना लगाया है. शिवसेना के...

कल्याण ग्रामीण के विधायक राजू पाटिल ने एमएसआरडीसी अधिकारियों के साथ किया निरीक्षण

कल्याण ग्रामीण के विधायक राजू पाटिल ने एमएसआरडीसी अधिकारियों के साथ किया निरीक्षण

मिथिलेश गुप्ताकल्याण : कल्याण ग्रामीण के विधायक राजू पाटिल ने एमएसआरडीसी के अधिकारियों के साथ कल्याण शील रोड के सीमेंटीकरण कार्य का निरीक्षण किया. इस दौरान उन्होंने अधिकारियों को उनकी त्रुटि दिखाई और कुछ सुझाव दिए. उन्होंने अधिकारियों को पलावा से रीजेंसी चौक तक...

डोंबिवली : 27 गांवों के हक के लिए संघर्ष समिति के पदाधिकारियों ने की मनपा आयुक्त से की मुलाकात

डोंबिवली : 27 गांवों के हक के लिए संघर्ष समिति के पदाधिकारियों ने की मनपा आयुक्त से की मुलाकात

मिथिलेश गुप्ताडोंबिवली : महाराष्ट्र सरकार ने 2015 में 27 गांवों को कल्याण डोंबिवली मनपा में जबरन शामिल कर दिया, लेकिन 27 गांवों के लोग स्वतंत्र नगर पालिका चाहते है. वहीं कल्याण डोंबिवली मनपा पिछले कई सालों से लोगों को बुनियादी सुविधा तक मुहैया नहीं करा पा रहा है....