पश्चिम बंगाल में टीएमसी को बहुमत लेकिन नंदीग्राम में ममता बनर्जी चुनाव हारी

by | May 2, 2021 | देश/विदेश

पश्चिम बंगाल में टीएमसी रुझानों में प्रचंड बहुमत में दिख रही है लेकिन इस प्रचंड बहुमत के बाद भी मुख्यमंत्री ममता बनर्जी खुद अपनी सीट नहीं बचा पाईं। नंदीग्राम में सुवेंदु अधिकारी के हाथों उन्हें 1622 वोटों से शिकस्त झेलनी पड़ी है। ममता बनर्जी ने नंदीग्राम में अपनी हार स्वीकार कर ली है।
कभी ममता के काफी करीबी रहे सुवेंदु अधिकारी के बीजेपी का दामन थामने के बाद ममता बनर्जी ने उन्हें उनकी सीट नंदीग्राम पर चुनौती देने का फैसला किया था। वह सिर्फ नंदीग्राम से ही चुनाव लड़ीं लेकिन उन्हें हार का सामना करना पड़ा। दोनों नेताओं में बहुत ही कांटे की लड़ाई हुई लेकिन आखिरकार बाजी सुवेंदु के हाथ लगी।उन्होंने कहा ‘नंदीग्राम के बारे में चिंता न करें. मैंने नंदीग्राम के लिए संघर्ष किया क्योंकि मैंने एक आंदोलन किया था.’ उन्होंने कहा ‘नंदीग्राम के लोग जो फैसला देना चाहते हैं, उन्हें वो फैसला लेने दें. मैं उसे स्वीकार करती हूं. मुझे बुरा नहीं लगा.’ बता दें कि इससे पहले न्यूज एजेंसी एएनआई ने ममता बनर्जी के जीत की न्यूज दी थी. लेकिन चुनाव आयोग की ताजा जानकारी के बाद शुवेंदु अधिकारी ने ममता बनर्जी को 1957 वोट से हरा दिया है.

यह न्यूज जरूर पढे 

पहले आया कोरोना निगेटिव का मैसेज,एक घंटे बाद फिर आया पॉजिटव का मैसेज, नगरपालिका कर्मियों ने आकर घर को किया सील,युवक असमंजस में…

पहले आया कोरोना निगेटिव का मैसेज,एक घंटे बाद फिर आया पॉजिटव का मैसेज, नगरपालिका कर्मियों ने आकर घर को किया सील,युवक असमंजस में…

कोरोना को लेकर कई तथ्यों पर अक्सर भ्रम फैलता रहा है. इसकी टेस्ट रिपोर्ट को लेकर भी कई बार विवाद सामने आए है लोग तरह तरह की बाते करते है. ऐसा ही ताजा मामला भैसदेही का है. जहां एक किशोर के एक कोविड सैम्पल की दो रिपोर्ट आई है. जिसके बाद किशोर के घर को सील कर दिया गया है....

सराहनीय | कोरोना से बचाव के लिए ग्रामीणों ने की कड़ी नाकाबंदी, जागरूकता का सम्मान करते हुए गांव में प्रवेश किए बिना मंत्री और जिलाधिकारी भी वापस लौटे,मुख्यमंत्री भी हुए फिदा

सराहनीय | कोरोना से बचाव के लिए ग्रामीणों ने की कड़ी नाकाबंदी, जागरूकता का सम्मान करते हुए गांव में प्रवेश किए बिना मंत्री और जिलाधिकारी भी वापस लौटे,मुख्यमंत्री भी हुए फिदा

देशभर में कोरोना का कहर जारी है.मध्य प्रदेश के इंदौर जिले का करीबन 7,000 की आबादी वाले ढाबली गांव में कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए ग्रामीणों ने अपने स्तर पर कड़ी नाकाबंदी के जरिये बाहरी लोगों के प्रवेश पर सख्ती कर रखी है. सख्ती का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि...

पालघर में 103 साल के बुजुर्ग ने कोरोना को दी मात,मुस्कान के साथ अस्पताल से निकलकर लौटे घर

पालघर में 103 साल के बुजुर्ग ने कोरोना को दी मात,मुस्कान के साथ अस्पताल से निकलकर लौटे घर

पालघर में 103 साल के बुजुर्ग कोरोना वायरस को हराकर अपने घर लौट आए हैं। इतनी ज्यादा उम्र का होने के बाद भी कोरोना का हराने के लिए बुजुर्ग की जमकर तारीफ हो रही है। शामराव इंग्ले विरेंद्र नगर के रहने वाले हैं। इनकी कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद इन्हें  कोरोना...