डोंबिवली पूर्व का नेहरू मैदान बनता जा रहा है कचराघर… जनप्रतिनिधि कर रहे है नजरअंदाज

by | Apr 26, 2021 | ठाणे, महाराष्ट्र

मिथिलेश गुप्ता
डोंबिवली पूर्व में गणेश मंदिर रोड पर स्थित नेहरू मैदान की हालत दयनीय हैं, लोग मैदान में कचरा फेंकते, डेब्रिज फेकने के साथ साथ शराबियों का महफिल भी मैदान में लगता है । नागरिकों के अनेक शिकायत के बाद भी केडीएमसी प्रशासन और वर्षो से सत्ता भोग रहे सत्ताधारियों ने इस मैदान को लावारिस छोड़ दिया है यह दुर्भाग्यपूर्ण है । मैदान को कचरे में तब्दील होता देख क्षेत्र के निवासियों ने नाराजगी जताई है ।

डोंबिवली के बच्चों को खेलने के लिए कोई मैदान नहीं बचा हैं ऐसा इसलिए है क्योंकि अधिकांश मैदानों पर बिल्डरों, संगठनों के द्वारा अवैध रूप से कब्जा किया गया है । उसी में से एक नेहरू मैदान हैं । इस मैदान से सटे नगरसेवक राहुल दामले, संदीप पुराणिक, नगरसेविका खुशबू चौधरी और भाजपा विधायक रविंद्र चव्हाण का कार्यालय है। इन सभी वार्डों के नागरिक और बच्चे हर दिन इस मैदान में खेलने और टहलने आते हैं। लेकिन वर्तमान में यह मैदान कचरे में तब्दील होता जा रहा है । जिम की स्थिति बहुत खराब है और जिम के उपकरण बेकार पड़े हैं। पत्थरों, ईंटों, रेत और लकड़ी के भंगार, स्क्रैप सामग्री, कूड़ेदान, शराब की बोतलों आदि को फेंक कर मैदान को कचरपट्टी बना दिया है।

मैदान से सटे पांचाल रोड का सीमेंटीकरण का काम अधूरा छोड़ दिया गया है और इसका श्रेय भाजपा के पदाधिकारी ले रहे हैं । लेकिन रास्ते के गटर पर ढक्कन नही है चेंबर खुला होने से कोई नागरिक उसमें गिर सकता है जिससे बड़ा हादसा हो सकता है । ऐसे किसी हादसे का इंतजार लोकप्रतिनिधि और प्रशासन कर रही है क्या ? ऐसा सवाल यहां के स्थानीय निवासियों ने पूछा है ।

कुछ लोग मैदान में दाना फेंकते हैं, जिसे चुगने के लिए मैदान में बड़ी संख्या में कबूतर आते हैं । मैदान को कबूतरखाना बना दिया है, उन कबूतरों के पंख, मल और निरंतर गुटुरर्ररगू ने यहां के लोगों को परेशान कर दिया है। कबूतरों को स्थायी रूप से हटाने और उनकी परेशानियों से छुटकारा पाने के लिए क्या उपाय किए जा सकते हैं ..? ऐसा सवाल क्षेत्र के निवासी नैना भाणगे ने उठाया है।

कुछ वर्ष पहले मैदान की दयनीय दशा का जायजा लेने के लिए सांसद डॉ. श्रीकांत शिंदे आये थे, तभी प्रशासन भी हरकत मे आयी थी । सांसद डॉ. शिंदे ने झटपट मैदान की सुशोभिकरण के लिये सांसद निधी से 50 लाख की निधी देने की घोषणा कर दी लेकिन मैदान की हालत और भी खराब हो गई ।

यह न्यूज जरूर पढे 

बोईसर की रेमडेसिविर इंजेक्शन बनाने वाली कंपनी का मंत्री असलम शेख ने किया दौरा,कहा केंद्र सरकार अगर करे ये काम तो इंजेक्शन की नही होगी कमी

बोईसर की रेमडेसिविर इंजेक्शन बनाने वाली कंपनी का मंत्री असलम शेख ने किया दौरा,कहा केंद्र सरकार अगर करे ये काम तो इंजेक्शन की नही होगी कमी

हेडलाइंस18 पालघर.मुंबई के पालकमंत्री असलम शेख ने बोईसर की तारापूर एमआईडीसी में स्थित रेमडेसिविर इंजेक्शन बनाने वाली कमला लाईफ सायन्सेस लिमटेड कंपनी का दौरा किया। और कोरोना काल मे लोगों के लिए संजीवनी बने रेमडेसिविर इंजेक्शन का उत्पादन और कैसे बढ़ाया जाए इसको लेकर...

डोंबिवली : बंद पड़ी विभा कंपनी में बनेगा 580 बेड का विशाल कोरोना केयर सेंटर

डोंबिवली : बंद पड़ी विभा कंपनी में बनेगा 580 बेड का विशाल कोरोना केयर सेंटर

मिथिलेश गुप्ताडोंबिवली :कोरोना जैसी महामारी से निपटने के लिए राज्य सरकार हर मुमकिन कोशिश कर रही है,जिसका नतीजा यह है कि पाए जाने वाले मरीजों की संख्या दिन प्रतिदिन कम हो रही है। संक्रमित मरीजों को सही समय पर सही उपचार मिल सके इसके लिए सरकार अधिक से अधिक जगह पर कोविड...

वसई-विरार : कोरोना को लेकर निजी अस्पतालों के प्रबंधकों के साथ आयुक्त ने की बैठक

वसई-विरार : कोरोना को लेकर निजी अस्पतालों के प्रबंधकों के साथ आयुक्त ने की बैठक

हेडलाइंस18 नेटवर्कवसई-विरार शहर महानगरपालिका क्षेत्र में कोरोना वायरस (covid -19) के बढ़ते मामलों को देखते हुए,मनपा द्वारा काबू पाने के लिए विभिन्न प्रयास किए जा रहे हैं। मरीजों का इलाज करते समय ऑक्सीजन की कमी न हो। इसी संबंध में बुधवार को आयुक्त गंगाधरन डी.,अतिरिक्त...