राजस्थान | घर में जन्मी बेटी, दादा फसल बेचकर हेलीकॉप्टर से घर लेकर आए.. हेलीपैड से घर तक फूलों की वर्षा के साथ बैंड-बाजों, गाजे-बाजों के साथ किया स्वागत सत्कार

by | Apr 25, 2021 | राजस्थान

जहां आज भी कुछ लोग बेटियों को बोझ समझते है। इतना ही नहीं बल्कि, बाल-विवाह, लड़कियों की अशिक्षा जैसी कई कुरीतियां अभी मौजूद है उसके नागौर में एक मिसाल पेश की गई है। जी हां, नागौर जिले के कुचेरा क्षेत्र के गांव निम्बड़ी चांदावता का यह मामला है। इस गांव में एक सामान्य किसान परिवार ने अपने घर में जन्मीं बेटी ऐसा जश्न मनाया कि आप भी इसे जानकर हर कोई हैरान है। कोरोना संकट काल में बेटी के सम्मान की यह खबर आपको भी गौरवान्वित महसूस करवाएगी।

दरअसल, नागौर के किसान मदन लाल प्रजापत के घर 35 साल बाद एक बेटी का जन्म हुआ, जो उनकी पोती सिद्धी है। इसी जन्म की खुशी को पूरे परिवार ने अनूठे अंदाज में मनाया है।मिली जानकारी के अनुसार बेटी को अपने ननिहाल से हेलिकॉप्टर में घर लाया गया है। इतना ही नहीं यहां हेलीपैड से लेकर घर तक रास्ते में गांव वालों ने बच्ची के सम्मान में फूल बिछाए । इसके लिए बाकायदा 10.12 दिन पहले से तैयारियां शुरू हो गई थीं।

उल्लेखनीय है कि पोती के स्वागत के लिए दादा मदनलाल ने कोई कोर. कसर ना छोड़ने का फैसला लिया। लिहाजा उन्होंने अपनी फसल बेचकर 5 लाख रुपये जुटाए । साथ ही इसी रकम से हेलिकॉप्टर का भी इंतजाम किया।

बताया जा रहा है कि बेटी के पिता हनुमान प्रजापत और पत्नी चुका देवी बेटी को अपने ननिहाल से हेलीकॉप्टर से लेकर आए। वहीं बुधवार को पहली बार दुर्गानवमी के मौके पर उसका घर में प्रवेश करवाया गया। बच्ची का जन्म उसके ननिहाल हरसोलाव गांव में तीन मार्च को हुआ था। बताया जा रहा है कि गांव में अपने दादा के घर पहुंचने के बाद सिद्धी का बेहद भव्य स्वागत किया गया। हेलीपैड स्थल से लेकर घर तक पूरे रास्ते में फूलों की वर्षा हुई। वहीं बैंड-बाजों, गाजे-बाजों के साथ उसका स्वागत सत्कार भी किया गया।

जानकारी के अनुसार नानी के घर से बिटिया सिद्धी को पिता हनुमानराम, फूफा अर्जुन प्रजापत, हनुमान राम के चचेरे भाई प्रेम व राजूराम पहुंचे थे। सुबह 9 बजे हेलिकॉप्टर में बैठकर सभी निम्बड़ी चांदावता से बच्ची के ननिहाल हरसोलाव पहुंचे। वहीं वहां से बिटिया को लेकर दोबारा घर की ओर रवाना हुए। इसी तरह दोपहर 2.15 बजे हेलिकॉप्टर से बिटिया अपने दादा के घर पहुंची। जहां इसके बाद सभी रस्में निभाई गई।

यह न्यूज जरूर पढे 

राजस्थान में कल से नौ दिन के लिए लग सकता है ताला.. संपूर्ण लॉकडाउन की तैयारी, शादियों पर भी पूरी तरह लगेगी रोक

राजस्थान में कल से नौ दिन के लिए लग सकता है ताला.. संपूर्ण लॉकडाउन की तैयारी, शादियों पर भी पूरी तरह लगेगी रोक

राजस्थान में कोरोना की चेन तोड़ने के लिए सात मई से 16 मई तक संपूर्ण लॉकडाउन लगाया जा सकता है। इस दौरान जरूरी सेवाएं छोड़कर बाकी सब बंद रहेगा। शादी-ब्याह पर भी पूरी तरह रोक लगेगी। लॉकडाउन के बारे में पांच सदस्यीय मंत्रियों की समिति अंतिम फैसला लेगी। गांवों में तेजी से...

बड़ा फैसला : कोरोना में फिर गरीबों को राशन मुहैया कराएगी मोदी सरकार, 80 करोड़ को फायदा

बड़ा फैसला : कोरोना में फिर गरीबों को राशन मुहैया कराएगी मोदी सरकार, 80 करोड़ को फायदा

फिर से कोरोना महामारी संकट को देखते हुए केंद्र की मोदी सरकार ने प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के तहत अगले दो महीनों के लिए प्रति व्यक्ति 5 किलोग्राम मुफ्त अनाज देने का ऐलान किया है. गरीबों के लिए ये अनाज मई और जून 2021 के लिए दिए जाएंगे. केंद्र सरकार की इस पहल...

राज्यों से प्रधानमंत्री मोदी ने किया अनुरोध लॉकडाउन को अंतिम विकल्प के रूप में ही इस्तेमाल करें,जानिए क्या कहा संबोधन में..

राज्यों से प्रधानमंत्री मोदी ने किया अनुरोध लॉकडाउन को अंतिम विकल्प के रूप में ही इस्तेमाल करें,जानिए क्या कहा संबोधन में..

हेडलाइंस18 नेटवर्ककोरोना के हालात पर पीएम मोदी देश को संबोधित किया, कोरोना की दूसरी लहर के बाद कई राज्यों में हालात काफी बिगड़ चुके हैं। ऐसे वक्त में पीएम मोदी देशवासियों को संबोधित किया है। पीएम मोदी ने कोरोना को लेकर जो बड़ी बातें की है उसमें -कोरोना पर पीएम मोदी के...