मोदी सरकार का बड़ा फैसला : जर्मनी से एयर लिफ्ट किए जाएंगे 23 ऑक्सीजन प्लांट, एक मिनट में होगा 900 किलो का उत्पादन

by | Apr 23, 2021 | देश/विदेश

देश में कोरोना महामारी की भयावह स्थिति को देखते हुए रक्षा मंत्रालय ने जर्मनी से 23 आक्सीजन उत्पादन संयंत्र हवाई मार्ग से लाने का फैसला किया है. अधिकारियों ने शुक्रवार को यह जानकारी दी. अधिकारियों ने बताया कि प्रत्येक संयंत्र की क्षमता 40 लीटर आक्सीजन प्रति मिनट और 2400 लीटर आक्सीजन प्रति घंटा उत्पादन करने की है. ऐसे में इन 23 प्लांटों से हर मिनट 920 लीटर ऑक्सीजन का उत्पादन होगा ।रक्षा मंत्रालय के प्रधान प्रवक्ता ए भारत भूषण बाबू ने कहा कि इन संयंत्रों की स्थापना कोविड-19 के मरीजों का उपचार करने वाले सशस्त्र सेना चिकित्सा सेवा (एएफएमसी) के अस्पतालों में की जाएगी।मंत्रालय का यह निर्णय तब आया है जब चार दिन पहले रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने महामारी के मद्देनजर चिकित्सा आधारभूत ढांचे को बेहतर बनाने के उद्देश्य से जरूरी खरीद के लिये तीनों सेवाओं ओर अन्य रक्षा एजेंसियों को आपात वित्तीय अधिकारी प्रदान करने की घोषणा की थी ।बाबू ने कहा, 23 सचल आक्सीजन उत्पादन संयंत्र को हवाई मार्ग से जर्मनी से लाया जायेगा . इन्हें कोविड-19 के मरीजों का उपचार करने वाले एएफएमसी के अस्पतालों में स्थापित किया जाएगा. ’’

यह न्यूज जरूर पढे 

पहले आया कोरोना निगेटिव का मैसेज,एक घंटे बाद फिर आया पॉजिटव का मैसेज, नगरपालिका कर्मियों ने आकर घर को किया सील,युवक असमंजस में…

पहले आया कोरोना निगेटिव का मैसेज,एक घंटे बाद फिर आया पॉजिटव का मैसेज, नगरपालिका कर्मियों ने आकर घर को किया सील,युवक असमंजस में…

कोरोना को लेकर कई तथ्यों पर अक्सर भ्रम फैलता रहा है. इसकी टेस्ट रिपोर्ट को लेकर भी कई बार विवाद सामने आए है लोग तरह तरह की बाते करते है. ऐसा ही ताजा मामला भैसदेही का है. जहां एक किशोर के एक कोविड सैम्पल की दो रिपोर्ट आई है. जिसके बाद किशोर के घर को सील कर दिया गया है....

सराहनीय | कोरोना से बचाव के लिए ग्रामीणों ने की कड़ी नाकाबंदी, जागरूकता का सम्मान करते हुए गांव में प्रवेश किए बिना मंत्री और जिलाधिकारी भी वापस लौटे,मुख्यमंत्री भी हुए फिदा

सराहनीय | कोरोना से बचाव के लिए ग्रामीणों ने की कड़ी नाकाबंदी, जागरूकता का सम्मान करते हुए गांव में प्रवेश किए बिना मंत्री और जिलाधिकारी भी वापस लौटे,मुख्यमंत्री भी हुए फिदा

देशभर में कोरोना का कहर जारी है.मध्य प्रदेश के इंदौर जिले का करीबन 7,000 की आबादी वाले ढाबली गांव में कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए ग्रामीणों ने अपने स्तर पर कड़ी नाकाबंदी के जरिये बाहरी लोगों के प्रवेश पर सख्ती कर रखी है. सख्ती का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि...

पालघर में 103 साल के बुजुर्ग ने कोरोना को दी मात,मुस्कान के साथ अस्पताल से निकलकर लौटे घर

पालघर में 103 साल के बुजुर्ग ने कोरोना को दी मात,मुस्कान के साथ अस्पताल से निकलकर लौटे घर

पालघर में 103 साल के बुजुर्ग कोरोना वायरस को हराकर अपने घर लौट आए हैं। इतनी ज्यादा उम्र का होने के बाद भी कोरोना का हराने के लिए बुजुर्ग की जमकर तारीफ हो रही है। शामराव इंग्ले विरेंद्र नगर के रहने वाले हैं। इनकी कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद इन्हें  कोरोना...