हरदोई:चपरतला के ताराचंद्र व बीरेंद्र की गेंहू की फसल राख नहीं पहुची फायर ब्रिगेड

by | Apr 12, 2021 | उत्तर प्रदेश

ब्यूरो नरेंद्र शुक्ला

संडीला थाना बेनीगंज अंतर्गत चपरतला के बीरेंद्र पुत्र गुरूदीन की 6 बीघा व ताराचंद्र पुत्र गंगाराम की 5 बीघा फसल जलकर राख हो गई। ग्रामीणों के अथक प्रयासों से आग पर काबू पाया जा सका अन्यथा पूरा गांव आग की चपेट में आ जाता बार बार फोन करने के बाद भी फायर ब्रिगेड नहीं पहुची। अज्ञात कारणों से लगी आग ने गरीब के खेतों की फसल को घर लाने से पहले ही खाक कर दिया पीडित किसानों ने बताया कि किसी तरह जैसे तैसे खेत बोया जानवरों से दिन रात बचाया मगर जब फसल काटकर घर लाने की नौबत आई तो आग ने तांडव करते हुए सबकुछ जला डाला। ग्रामीणों ने बताया अभी बीते हुए कल ही आग ने कई बीघा फसल नष्ट कर दी और अभी दर्जनों बीघे फसल नष्ट हुई लेकिन फायर ब्रिगेड लेखपाल कानूनगो समेत कोई अधिकारी जिम्मेदार नहीं पहुंचा ग्रामीणों ने शासन प्रशासन से मुवावजे की मांग की है।

यह न्यूज जरूर पढे 

डीह|खून से लथपथ मिला मासूम का शव,मचा हड़कंप

डीह|खून से लथपथ मिला मासूम का शव,मचा हड़कंप

राजकुमार रायबरेली: नानी के साथ घर के बाहर सो रही 12 वर्षीय मासूम बालिका की संदिग्ध परिस्थितियों में खून से लथपथ लाश गांव के बाहर मिली. लाश मिलने से गांव में हड़कंप मच गया. सूचना पर डीह थाने की पुलिस के साथ उच्च अधिकारी भी मौके पर पहुंचे. जमीन का लालच हत्या का...

क्षेत्र पंचायत सदस्य ने गांव की समस्या को लेकर विकास खण्ड अधिकारी को सौंपा ज्ञापन

क्षेत्र पंचायत सदस्य ने गांव की समस्या को लेकर विकास खण्ड अधिकारी को सौंपा ज्ञापन

राजकुमार रायबरेली. विकास खण्ड डीह के पंचम क्षेत्र पंचायत सदस्य बबलू यादव ने अपने क्षेत्र की समस्या को देखते हुए विकस खण्ड अधिकारी को लिखित सूचना पत्र देकर क्षेत्र की समस्या गिनाई और समस्या के निपटारे कि मांग की। डीह पंचम क्षेत्र पंचायत सदस्य ने बताया कि पूरे उपाध्याय...

परशदेपुर|CM योगी की फटकार बेअसर, ब्लॉक प्रमुख के शपथ ग्रहण समारोह में ऐसी हरकत कर गये शिक्षाधिकारी,तस्वीरे कर देगी शर्मसार

परशदेपुर|CM योगी की फटकार बेअसर, ब्लॉक प्रमुख के शपथ ग्रहण समारोह में ऐसी हरकत कर गये शिक्षाधिकारी,तस्वीरे कर देगी शर्मसार

राजकुमाररायबरेली.सीएम योगी आदित्यनाथ ने मुख्यमंत्री बनते ही अधिकारियों को यह साफ कह दिया था कि पिछली सरकारों की तरह ढीला रवैया छोड़ना ही होगा। ऐसा न करने वालों को बख्शा नहीं जाएगा। पर लगता है कि अधिकारियों ने या तो उनकी बात को गंभीरता नहीं लिया या फिर वो भूल गए। यह...