एसडीपीओ का बयान: इंस्पेक्टर अश्विनी कुमार की हत्या के लिए मस्जिद से अनाउंस कर जुटाई गई थी भीड़,मास्टर माइंड फिरोज और इजराइल गिरफ्तार

by | Apr 12, 2021 | देश/विदेश, बिहार

हेडलाइंस18

किशनगंज.पश्चिम बंगाल में भीड़ द्वारा किए गए हमले में शहीद हुए बिहार के जांबाज पुलिस इंस्पेक्टर अश्विनी कुमार की हत्या के मामले में बड़ा खुलासा हुआ है. दरअसल थानेदार की हत्या करने वाले भीड़ को वहां की एक मस्जिद से बकायदा अनाउंस करके जुटाया गया था.ये जानकारी किशनगंज के एसडीपीओ जावेद अंसारी ने दी है. एसडीपीओ के मुताबिक दो लोगों ने हल्ला कर पहले लोगों को बुलाया और फिर देखते ही देखते भीड़ जमा हो गई. एसडीपीओ ने कहा कि थानाध्यक्ष की हत्या करने के मामले में मस्जिद से ऐलान कर लोगों को इकट्ठा किया गया था कि चोर आ गए हैं, डाकू आ गए हैं जिसके बाद भीड़ ने हमारे थानेदार की पीट-पीटकर हत्या कर दी.थानेदार के मुताबिक इस मामले में अब तक पश्चिम बंगाल से पांच जबकि बिहार से तीन लोगों की गिरफ्तारी की गई है. मस्जिद से अनाउंस कर भीड़ इकट्ठा करने के मामले में पुलिस ने मास्टर माइंड फिरोज और इजराइल थे जिनको भी पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. बतादे कि बंगाल के ग्वालपोखर थाना क्षेत्र के पंतापाड़ा गांव में बाइक चोरी मामले में छापेमारी करने गयी पुलिस टीम पर भीड़ ने हमला कर दिया था. घटना में किशनगंज टाउन थानाध्यक्ष अश्विनी कुमार की मौके पर ही मौत हो गई थी.मॉब लीचिंग और पुलिस टीम पर हमले की ये घटना शनिवार की अहले सुबह 3 बजे हुई थी. बाइक लूट में छापेमारी करने गए थे. शहीद अश्विनी कुमार 94 बैच के दारोगा थे बाद में उनकी इंस्पेक्टर पद पर प्रोन्नति हुई थी. पुलिस ने इस केस में आरोपी फिरोज आलम, भाई अबुजर आलम व फिरोज आलम की मां शाहीनूर खातून को गिरफ्तार किया था. इसी केस में लापरवाही बरतने और थानेदार को अकेला छोड़कर भागने वाले पुलिसकर्मियों को भी सस्पेंड किया गया है. इस मामले में बिहार के डीजीपी एसके सिंघल ने पश्चिम बंगाल के डीजीपी से भी बात की है. थानेदार की हत्या की खबर सुनते ही उनकी मां की भी मौत हो गई थी जिसके बाद दोनों के शव का एक ही साथ अंतिम संस्कार किया गया था.

यह न्यूज जरूर पढे 

पहले आया कोरोना निगेटिव का मैसेज,एक घंटे बाद फिर आया पॉजिटव का मैसेज, नगरपालिका कर्मियों ने आकर घर को किया सील,युवक असमंजस में…

पहले आया कोरोना निगेटिव का मैसेज,एक घंटे बाद फिर आया पॉजिटव का मैसेज, नगरपालिका कर्मियों ने आकर घर को किया सील,युवक असमंजस में…

कोरोना को लेकर कई तथ्यों पर अक्सर भ्रम फैलता रहा है. इसकी टेस्ट रिपोर्ट को लेकर भी कई बार विवाद सामने आए है लोग तरह तरह की बाते करते है. ऐसा ही ताजा मामला भैसदेही का है. जहां एक किशोर के एक कोविड सैम्पल की दो रिपोर्ट आई है. जिसके बाद किशोर के घर को सील कर दिया गया है....

सराहनीय | कोरोना से बचाव के लिए ग्रामीणों ने की कड़ी नाकाबंदी, जागरूकता का सम्मान करते हुए गांव में प्रवेश किए बिना मंत्री और जिलाधिकारी भी वापस लौटे,मुख्यमंत्री भी हुए फिदा

सराहनीय | कोरोना से बचाव के लिए ग्रामीणों ने की कड़ी नाकाबंदी, जागरूकता का सम्मान करते हुए गांव में प्रवेश किए बिना मंत्री और जिलाधिकारी भी वापस लौटे,मुख्यमंत्री भी हुए फिदा

देशभर में कोरोना का कहर जारी है.मध्य प्रदेश के इंदौर जिले का करीबन 7,000 की आबादी वाले ढाबली गांव में कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए ग्रामीणों ने अपने स्तर पर कड़ी नाकाबंदी के जरिये बाहरी लोगों के प्रवेश पर सख्ती कर रखी है. सख्ती का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि...

पालघर में 103 साल के बुजुर्ग ने कोरोना को दी मात,मुस्कान के साथ अस्पताल से निकलकर लौटे घर

पालघर में 103 साल के बुजुर्ग ने कोरोना को दी मात,मुस्कान के साथ अस्पताल से निकलकर लौटे घर

पालघर में 103 साल के बुजुर्ग कोरोना वायरस को हराकर अपने घर लौट आए हैं। इतनी ज्यादा उम्र का होने के बाद भी कोरोना का हराने के लिए बुजुर्ग की जमकर तारीफ हो रही है। शामराव इंग्ले विरेंद्र नगर के रहने वाले हैं। इनकी कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद इन्हें  कोरोना...