एम्बुलेंस और बोलेरो में हुई जोरदार भिड़ंत,6 घायल, एक की हालत नाजुक

by | Apr 5, 2021 | उत्तर प्रदेश

ब्यूरो नरेंद्र शुक्ला

हरदोई.बेहटा गोकुल पिहानी मार्ग पर मन्सूरनगर में पूरेला मोड़ के पास हरियावां की तरफ  से मन्सूर नगर की तरफ आ रही तेज रफ्तार एंबुलेंस की बेहटा गोकुल की तरफ से पिहानी की तरफ जा रही बोलेरो में जोरदार टक्कर हो गई हादसे में एंबुलेंस चालक पंकज यादव व सहचालक विनोद तिवारी गंभीर रूप से घायल हो गए वहीं बोलेरो सवार संजय पुत्र गयादीन(प्रधान) खदरा मजरा साधिनावाँ थाना हरियावां बुलेरो सवार 4 लोग व एम्बुलेंस सहचालक विनोद तिवारी की हालत गंभीर बनी हुई है मौके पर पहुंची पिहानी पुलिस व ग्रामीणों की मदद से घायलों को एंबुलेंस की मदद से सीएचसी हरियावां भिजवाया गया जहां डॉक्टरों ने उन्हें जिला अस्पताल रेफर कर दिया। बताया जा रहा है। बोलेरो वाले कहीं गोद भरने जा रहे थे और एम्बुलेंस के स्टाफ टेक्नीशियन के बहुत ज्यादा चोट है उनको लखनऊ के लिए रेफर करवा दिया क्योंकि नाक से ब्लड नहीं बंद हो रहा है।

यह न्यूज जरूर पढे 

डीह|खून से लथपथ मिला मासूम का शव,मचा हड़कंप

डीह|खून से लथपथ मिला मासूम का शव,मचा हड़कंप

राजकुमार रायबरेली: नानी के साथ घर के बाहर सो रही 12 वर्षीय मासूम बालिका की संदिग्ध परिस्थितियों में खून से लथपथ लाश गांव के बाहर मिली. लाश मिलने से गांव में हड़कंप मच गया. सूचना पर डीह थाने की पुलिस के साथ उच्च अधिकारी भी मौके पर पहुंचे. जमीन का लालच हत्या का...

क्षेत्र पंचायत सदस्य ने गांव की समस्या को लेकर विकास खण्ड अधिकारी को सौंपा ज्ञापन

क्षेत्र पंचायत सदस्य ने गांव की समस्या को लेकर विकास खण्ड अधिकारी को सौंपा ज्ञापन

राजकुमार रायबरेली. विकास खण्ड डीह के पंचम क्षेत्र पंचायत सदस्य बबलू यादव ने अपने क्षेत्र की समस्या को देखते हुए विकस खण्ड अधिकारी को लिखित सूचना पत्र देकर क्षेत्र की समस्या गिनाई और समस्या के निपटारे कि मांग की। डीह पंचम क्षेत्र पंचायत सदस्य ने बताया कि पूरे उपाध्याय...

परशदेपुर|CM योगी की फटकार बेअसर, ब्लॉक प्रमुख के शपथ ग्रहण समारोह में ऐसी हरकत कर गये शिक्षाधिकारी,तस्वीरे कर देगी शर्मसार

परशदेपुर|CM योगी की फटकार बेअसर, ब्लॉक प्रमुख के शपथ ग्रहण समारोह में ऐसी हरकत कर गये शिक्षाधिकारी,तस्वीरे कर देगी शर्मसार

राजकुमाररायबरेली.सीएम योगी आदित्यनाथ ने मुख्यमंत्री बनते ही अधिकारियों को यह साफ कह दिया था कि पिछली सरकारों की तरह ढीला रवैया छोड़ना ही होगा। ऐसा न करने वालों को बख्शा नहीं जाएगा। पर लगता है कि अधिकारियों ने या तो उनकी बात को गंभीरता नहीं लिया या फिर वो भूल गए। यह...