संकट में महाराष्ट्र सरकार? फडणवीस ने 6 जीबी का ‘सबूत’ देकर की CBI जांच की मांग

by | Mar 23, 2021 | महाराष्ट्र, मुंबई

महाराष्ट्र में परमबीर सिंह के लेटर के बाद उद्धव सरकार संकट में घिर गई है। वरिष्ठ बीजेपी नेता देवेंद्र फडणवीस ने गृह मंत्रालय को 6 जीबी से ज्यादा का डेटा सौंपा है, जिसमें उन्होंने दावा किया कि महाराष्ट्र में पुलिस महकमे में तबादले और पोस्टिंग में बड़े स्तर पर भ्रष्टाचार हुआ है। फडणवीस का आरोप है कि खुफिया विभाग की रिपोर्ट पर महा विकास आघाड़ी (एमवीए) सरकार ने कार्रवाई नहीं की, जिसके बाद उन्होंने मामले की सीबीआई जांच की मांग की। पूर्व मुख्यमंत्री फडणवीस ने दावा किया कि तत्कालीन खुफिया आयुक्त रश्मि शुक्ला द्वारा इजाजत लेकर फोन रिकॉर्ड किए गए थे और कॉल पर की गई बातचीत का 6.3 जीबी डेटा उनके पास है जिसमें कई अहम पुलिस अधिकारियों के नामों पर चर्चा की गई थी।

गृह सचिव से मुलाकात करने के बाद देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि मैंने सभी सबूत सील बंद लिफाफे में दे दिए हैं। उन्होंने मुझे भरोसा दिलाया है कि वह इस मामले को देखेंगे और सरकार उचित कार्रवाई करेगी। इससे पहले, बीजेपी नेता ने कहा कि इन सभी फोन कॉल को राज्य सरकार से उचित अनुमति लेकर शुक्ला ने रिकॉर्ड किया था लेकिन अगस्त 2020 में मुख्यमंत्री (उद्धव ठाकरे) को रिपोर्ट सौंपने के बावजूद रिपोर्ट पर कोई कार्रवाई नहीं की गई है। उन्होंने कहा, ”मैं इस मामले की सीबीआई से जांच कराने की मांग कर रहा हूं।”

यह न्यूज जरूर पढे 

बीमा कंपनियों के खिलाफ शिवसेना नेता द्वारा सुप्रीम कोर्ट में की जाएगी याचिका दायर

बीमा कंपनियों के खिलाफ शिवसेना नेता द्वारा सुप्रीम कोर्ट में की जाएगी याचिका दायर

मिथिलेश गुप्ताडोंबिवली : कोरोना की शुरुआत में मरीजों का मुफ्त इलाज किया गया. निःशुल्क उपचार प्राप्त करने वाले चालीस प्रतिशत रोगियों के पास स्वास्थ्य बीमा पॉलिसी थी. उन कंपनियों ने इसका लाभ मरीजों को नहीं दिया. कंपनियों ने सीधे पॉलिसीधारक को चूना लगाया है. शिवसेना के...

कल्याण ग्रामीण के विधायक राजू पाटिल ने एमएसआरडीसी अधिकारियों के साथ किया निरीक्षण

कल्याण ग्रामीण के विधायक राजू पाटिल ने एमएसआरडीसी अधिकारियों के साथ किया निरीक्षण

मिथिलेश गुप्ताकल्याण : कल्याण ग्रामीण के विधायक राजू पाटिल ने एमएसआरडीसी के अधिकारियों के साथ कल्याण शील रोड के सीमेंटीकरण कार्य का निरीक्षण किया. इस दौरान उन्होंने अधिकारियों को उनकी त्रुटि दिखाई और कुछ सुझाव दिए. उन्होंने अधिकारियों को पलावा से रीजेंसी चौक तक...

डोंबिवली : 27 गांवों के हक के लिए संघर्ष समिति के पदाधिकारियों ने की मनपा आयुक्त से की मुलाकात

डोंबिवली : 27 गांवों के हक के लिए संघर्ष समिति के पदाधिकारियों ने की मनपा आयुक्त से की मुलाकात

मिथिलेश गुप्ताडोंबिवली : महाराष्ट्र सरकार ने 2015 में 27 गांवों को कल्याण डोंबिवली मनपा में जबरन शामिल कर दिया, लेकिन 27 गांवों के लोग स्वतंत्र नगर पालिका चाहते है. वहीं कल्याण डोंबिवली मनपा पिछले कई सालों से लोगों को बुनियादी सुविधा तक मुहैया नहीं करा पा रहा है....