पालघर : कलेक्टर ने होली को लेकर जारी किया बड़ा आदेश,एक गलती पड़ सकती है भारी,हो सकती है बड़ी कार्यवाही

by | Mar 22, 2021 | पालघर, महाराष्ट्र, वसई विरार

जिले में सार्वजनिक स्थानों, होटलों, रिसॉर्टों और सार्वजनिक हॉल में धूलिवंदन कार्यक्रम पर लगाया प्रतिबंध

हेडलाइंस18 नेटवर्क
पालघर : राज्य और जिले में कोरोना वायरस का कहर एक बार फिर से बढ़ रहा है। कोरोना वायरस (covid -19) के संक्रमण फैलने की संभावना को देखते हुए, जिले में सार्वजनिक स्थानों, होटलों, रिसॉर्ट्स और सार्वजनिक हॉल में धूलिवंदन कार्यक्रम पर प्रतिबंध लगाया गया है।


आपदा प्रबंधन अधिनियम, 2005 और महाराष्ट्र कोविड 19 उपाय, 2020 के नियम 10 के अनुसार, पालघर के कलेक्टर डॉ. माणिक गुरसल ने धुलिवंदन कार्यक्रम को पालघर जिले के सार्वजनिक स्थानों, होटलों, रिसॉर्टों और सार्वजनिक हॉल में प्रतिबंधित किया है। उक्त आदेश का उल्लंघन या आपत्ति, आपदा प्रबंधन अधिनियम, 2005, भारतीय दंड संहिता की धारा 188 (1860 का 45) और संक्रमक रोग नियंत्रण अधिनियम, 1897 की धारा 51 (बी) के तहत दंडनीय होगा ।

यह न्यूज जरूर पढे 

बीमा कंपनियों के खिलाफ शिवसेना नेता द्वारा सुप्रीम कोर्ट में की जाएगी याचिका दायर

बीमा कंपनियों के खिलाफ शिवसेना नेता द्वारा सुप्रीम कोर्ट में की जाएगी याचिका दायर

मिथिलेश गुप्ताडोंबिवली : कोरोना की शुरुआत में मरीजों का मुफ्त इलाज किया गया. निःशुल्क उपचार प्राप्त करने वाले चालीस प्रतिशत रोगियों के पास स्वास्थ्य बीमा पॉलिसी थी. उन कंपनियों ने इसका लाभ मरीजों को नहीं दिया. कंपनियों ने सीधे पॉलिसीधारक को चूना लगाया है. शिवसेना के...

कल्याण ग्रामीण के विधायक राजू पाटिल ने एमएसआरडीसी अधिकारियों के साथ किया निरीक्षण

कल्याण ग्रामीण के विधायक राजू पाटिल ने एमएसआरडीसी अधिकारियों के साथ किया निरीक्षण

मिथिलेश गुप्ताकल्याण : कल्याण ग्रामीण के विधायक राजू पाटिल ने एमएसआरडीसी के अधिकारियों के साथ कल्याण शील रोड के सीमेंटीकरण कार्य का निरीक्षण किया. इस दौरान उन्होंने अधिकारियों को उनकी त्रुटि दिखाई और कुछ सुझाव दिए. उन्होंने अधिकारियों को पलावा से रीजेंसी चौक तक...

डोंबिवली : 27 गांवों के हक के लिए संघर्ष समिति के पदाधिकारियों ने की मनपा आयुक्त से की मुलाकात

डोंबिवली : 27 गांवों के हक के लिए संघर्ष समिति के पदाधिकारियों ने की मनपा आयुक्त से की मुलाकात

मिथिलेश गुप्ताडोंबिवली : महाराष्ट्र सरकार ने 2015 में 27 गांवों को कल्याण डोंबिवली मनपा में जबरन शामिल कर दिया, लेकिन 27 गांवों के लोग स्वतंत्र नगर पालिका चाहते है. वहीं कल्याण डोंबिवली मनपा पिछले कई सालों से लोगों को बुनियादी सुविधा तक मुहैया नहीं करा पा रहा है....