परशदेपुर: योगी सरकार ने बाबा गंगादास प्राचीन कुटी को पर्यटन स्थल किया घोषित,विकास के लिए 44.71 लाख रुपये स्वीकृत

by | Mar 21, 2021 | उत्तर प्रदेश, देश/विदेश, रायबरेली, लखनऊ

राजकुमार/हेडलाइंस18

बरसों से आस लगाए बैठे लोगों की मनोकामनाएं आखिरकार पूरी हो ही गई । जिला मुख्यालय से करीब 30 किलोमीटर दूर ग्राम गोपालपुर के शेरनाथपुर गांव में स्थित लोगों की अटूट श्रद्धा के प्रतीक बाबा गंगादास प्राचीन कुटी को योगी सरकार द्वारा पर्यटक स्थल घोषित कर दिया गया है। कुटी के चौमुखी विकास के लिए योगी सरकार ने 44.71 लाख रुपये की निधि स्वीकृत की है।

अपार श्रद्धा जागे सब संकट भागे

शेरनाथपुर गांव के बाहर करीब पांच बीघे के जंगल में बाबा गंगादास की कुटी बनी है। कुटी आस-पास ही नहीं बल्कि दूर-दराज के क्षेत्रों के श्रद्धालुओं के अटूट विश्वास का केंद्र है। ग्रामीणों द्वारा किसी भी शुभ कार्य की शुरूआत करने से पहले बाबा गंगादास कुटी में माथा टेकना उनके प्रति ग्रामीणों की गहरी आस्था को प्रकट करता है। स्थानीय निवासी पंडित भोला प्रसाद द्विवेदी बताते है,कि करीब 95 वर्षो से यहां लगातार भंडारा का आयोजन हो रहा है। जिसमें लोगों की भीड़ उमड़ती है। बाबा की समाधि पर पूजा पाठ करने वाले लोगों का तांता लगा रहता है। लोगों का मानना है कि यहां मांगी गई मन्नतें अवश्य पूरी होती हैं। भोला प्रसाद ने बताया कि ग्रामीणों में कहावत मशहूर है, कि बाबा की अपार श्रद्धा जागे सब संकट भागें।

कुटी को विधायक ने पर्यटन स्थल घोषित किये जाने की थी मांग

भाजपा विधायक दलबहादुर कोरी ने बाबा गंगादास की कुटी को पर्यटन स्थल घोषित करने की मांग को लेकर उत्तर प्रदेश पर्यटन विभाग को एक पत्र लिखा था। विधायक ने ठाकुर बाबा बिरनावां व लंगुरिया बाबा इमरती चौराहा को भी पर्यटन स्थल घोषित किये जाने की मांग की थी। विधायक दल बहादुर कोरी ने कहा कि अमेठी सांसद और केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी क्षेत्र के विकास के लिए सदैव तत्पर हैं। जल्द ही सर्वे के बाद स्वीकृत निधि से बाबा गंगादास प्राचीन कुटी को पर्यटन स्थल की पहचान दिलाने का कार्य शुरू हो जाएगा।

यह न्यूज जरूर पढे