विरार का लड़का हूं, गलियों से आया हूं,मुझे पता है कैसे बाउंस बैक करना है – क्रिकेटर पृथ्वी शॉ

by | Mar 13, 2021 | पालघर, महाराष्ट्र, वसई विरार

हेडलाइंस18 नेटवर्क
नई दिल्ली : भारतीय युवा बल्लेबाज पृथ्वी शॉ ने 188.5 की औसत से विजय हजारे ट्रॉफी 2021 में 754 रन बनाए हैं. वह इस टूर्नामेंट में इस सीजन में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले खिलाड़ी हैं. इस टूर्नामेंट का फाइनल मैच रविवार को मुंबई और उत्तर प्रदेश के बीच में खेला जाएगा. पृथ्वी शॉ ने एक इंटरव्यू में कहा कि मैं कभी भी जल्दी हार नहीं मानता. मैं विरार का लड़का हूं. मैं गलियों से आया हूं. मुझे पता है कि कैसे बाउंस बैक करना है. मैंने हमेशा टीम को खुद से ऊपर रखा है. चाहे फिर वो क्लब हो, मुंबई हो या फिर भारत. यदि आप चाहते हैं कि मैं 100 गेंदों में 1 रन बनाऊं, तो मैं कोशिश कर सकता हूं लेकिन वह मैं नहीं हूं. यह मेरा खेल नहीं है. मैं इस तरह से नहीं खेल सकता हूं. मैं कभी भी ऐसी स्थिति में नहीं था जैसे मैं ऑस्ट्रेलिया में था, लेकिन मैंने अब कड़ी मेहनत की है. इसे सुधारने के लिए मैंने नेट्स में घंटों बिताए हैं.
उन्होंने कहा, ”एक बार जब आप टीम से बाहर हो जाते हैं तो प्रदर्शन करने और वापसी करने का दबाव होता है. मैं रन बनाने लिए उत्सुक हूं. मैं बड़े रन बनाना चाहता हूं. क्वार्टरफाइनल के दौरान मुझे पीठ में दर्द हुआ और हमारे फिजियो और टीम प्रबंधन ने मुझे ड्रेसिंग रूम में लौटने को कहा, लेकिन मैंने कहा- नहीं. उन्होंने मुझे दवाई दी और मैं लगातार बल्लेबाजी करता रहा. मेरा फोकस नाबाद रहने पर था. जब मैं बल्लेबाजी कर रहा होता हूं तो मैं बेहतर परिस्थितियों को संभालने की कोशिश करता हूं.”

यह न्यूज जरूर पढे