खाकी से लड़ाई में हार गया कोरोना

by | Sep 3, 2020 | ठाणे

70 दिनों तक चली जंग में जीता खाकी पुलिस आयुक्त विवेक फणसलकर पुलिस कर्मी के घर जाकर दिया साहस

धर्मेंद्र उपाध्याय

ठाणे।कोरोना संकट काल में कई पुलिस कर्मियों ने कोरोना वायरस के चलते अपनी जान गंवा दी है लेकिन कई पुलिस अधिकारी ऐसे भी है जिन्होंने कोरोना वायरस से लड़ाई जीत कर एक मिसाल कायम कर दी है।इन्हीं में से एक राबोडी पुलिस स्टेशन के सहायक पुलिस उप निरीक्षक भगतराव सालुंखे (55) भी शामिल है। जिन्होंने 70 दिनों तक कोरोना से लड़कर कोरोना को पूरी तरह से हरा दिया और अपने घर लौट चुके है। ठाणे पुलिस आयुक्त विवेक फणसलकर ने सिर्फ उनका स्वागत ही नही किये बल्कि पुलिस कर्मी के घर जाकर साहस बढ़ाते हुए उनके भावी जीवन की कामना की है।गौरतलब है कि ठाणे के राबोडी पुलिस स्टेशन के सहायक उप-निरीक्षक 55 वर्षीय भगवतराव सालुंखे अपनी पत्नी और दो बच्चों के साथ ठाणे के वागले इस्टेट में रहते हैं। सालुंके को दो महीने पहले कोरोना संक्रमित पाकर उन्हें इलाज के लिए ठाणे के वेदांता अस्पताल में भर्ती कराया गया।इस बीच इलाज के दौरान उनकी हालत बिगड़ गई थी।वेदांत अस्पताल में डेढ़ महीने के इलाज के बाद, उन्हें वर्तक नगर के सिद्धिविनायक अस्पताल में भर्ती कराया गया। 13 दिनों के बाद, उन्हें आगे के उपचार के लिए मुंबई के बॉम्बे अस्पताल में भर्ती कराया गया। साइट पर दस दिनों के उपचार के बाद पूरी तरह से ठीक होने वाले सालुंखे को एक सप्ताह पहले बॉम्बे अस्पताल से छुट्टी दे दी गई थी। कोरोना योद्धा सहायक पुलिस उप-निरीक्षक भगतराव सालुंखे, जो 70 दिनों तक कोरोना से जूझने के बाद घर लौट आए, उन्हें फूलों से नहलाया गया और स्थानीय लोगों ने उनका स्वागत किया।
भगवत राव ने बताया कि 70 दिनों तक चली उनकी कोरोना जंग में उन्होंने स्वास्थ के कई उतार चढ़ाव देखे लेकिन उन्होंने इस युद्ध में हार नहीं मानी और आखिरकार उनकी जीत हुई है और कोरोना हार गया है। उनका कहना है कि जब तक आप हार नहीं मानते तब तक आपको कोई भी हरा नहीं सकता।

यह न्यूज जरूर पढे 

डोंबिवली : चाचा ने 14 साल की भतीजी को पीट-पीट कर उतारा मौत के घाट,वजह जानकर हो जाएंगे हैरान..

डोंबिवली : चाचा ने 14 साल की भतीजी को पीट-पीट कर उतारा मौत के घाट,वजह जानकर हो जाएंगे हैरान..

मिथिलेश गुप्ताडोंबिवली : डोंबिवली में 14 साल की बच्ची की दिल दहला देने वाली हत्या का मामला सामने आया है । इस मामले में उसके चाचा को गिरफ्तार कर लिया है। डोंबिवली रामनगर पुलिस ने आरोपी चाचा मयूरेश सफलिंगा को गिरफ्तार कर लिया है। आरोप है कि कथित भतीजी के साथ संबंध होने...

डोंबिवली : कोरोना से अनाथ हुए बच्चो की शैक्षणिक जवाबदारी उठाई शिवसेना शहरप्रमुख राजेश मोरे और पूर्व नगरसेविका भारती मोरे ने

डोंबिवली : कोरोना से अनाथ हुए बच्चो की शैक्षणिक जवाबदारी उठाई शिवसेना शहरप्रमुख राजेश मोरे और पूर्व नगरसेविका भारती मोरे ने

मिथिलेश गुप्ताडोंबिवली : कोविड की दूसरी लहर ने कई बच्चों के सिर से माता-पिता का छत्रछाया उठ गया है। डोंबिवली में एक ही परिवार में अपने माता-पिता को खोने वाले बच्चों की शैक्षणिक जवाबदारी शिवसेना के शहरप्रमुख राजेश मोरे और पूर्व नगरसेविका भारती मोरे ने ली है । यह एक...

अतिरिक्त वजन कम करने के लिए मोटे कुत्तों पर भारत में पहली बार लैप्रोस्कोपिक स्लीव गैस्ट्रेक्टोमी सर्जरी

अतिरिक्त वजन कम करने के लिए मोटे कुत्तों पर भारत में पहली बार लैप्रोस्कोपिक स्लीव गैस्ट्रेक्टोमी सर्जरी

मिथिलेश गुप्तापुणे : बहुत से लोग वजन कम करने के लिऐ सर्जरी का सहारा लेते हैं। लेकिन, एक कुत्ते (कुत्ते) ने वजन कम करने के लिए लैप्रोस्कोपिक स्लीव गैस्ट्रेक्टोमी सर्जरी करवाई है। लेकिन ये सच है। मोटापा एक बीमारी है। इंसानों के साथ-साथ कुत्तों में भी मोटापा बढ़ रहा है।...